July 24, 2021
Breaking News

मेकाहारा में 2 घंटे नर्सों ने रोका काम

मांग पूरी नहीं होने पर 30 को सामूहिक छुट्टी
harit chhattisgarh raipur.. मेकाहारा में आज शुक्रवार सुबह हड़कंप मच गया जब अस्पताल की सभी नर्सों ने सुबह से काम रोक दिया। सुबह दो घंटे तक मेकाहारा की सभी नर्स सांकेतिक हड़ताल पर थीं। अपनी 6सूत्रीय मांगों के पूरा नहीं होने पर वे नाराज चली आ रहीं थी। इधर दो घंटे तक मरीजों का हाल बेहाल रहा।
छत्तीसगढ़ परिचायिका कर्मचारी कल्याण संघ की रायपुर जिला अध्यक्ष नीलिमा शर्मा ने बताया कि, आज मेकाहारा की सभी 370 नर्स सुबह 8 बजे से 10 बजे तक सांकेतिक हड़ताल पर रहीं। उन्होंने कहा कि, प्रशासन से स्टाफ की संख्या बढ़ाने लगातार मांग की जाती रही है। स्वास्थ्य आयुक्त आर प्रसन्ना ने इनकी 6 सूत्रीय मांगों को बजट में रखने की बात कही थी। लेकिन हमारी बातों को प्रमुखता नहीं दी जाती है। हमने लिखित में हमारी मांगों को प्रशासन को सौंपा है, यदि मांगें पूरी नहीं की जाती तो सभी स्टाफ नर्स 30 अगस्त को सामूहिक सीएल पर रहेंगी।

 

मरीज होते रहे परेशान :
मेकाहारा प्रदेश का सबसे बड़ा अस्पताल है और यहां सैकडों मरीज रोजाना आते हैं। आज सुबह नर्सेस के काम पर नहीं होने से मरीज परेशान होते रहे। मरीज शिव अग्रवाल का विगत 1 माह से इलाज चल रहा है। उनका कहना है कि डॉक्टर तो सिर्फ दवाई लिख देता है बाकि सारे काम तो नर्स ही करती हैं। नर्स के छुट्टी में रहने का दर्द तो हम मरीज समझ सकते हैं।डीके अस्पताल बंद होने के बाद से एक नियम 15 वर्षों तक बंद रहा, जिसमें मेडिकल की पढ़ाई कर रही छात्राओं को अस्पताल में नर्स के तौर पर सेवा भी देनी होती थी। 6 महीने पूर्व यह फिर से शुरु हुआ लेकिन वो भी 2 घंटे काम करती हैं और चली जाती हैं। नियमित कार्य नहीं करतीं। इसे भी शुरु होना चाहिए।
इस दौरान संघ की प्रांतीय उप सचिव डॉ रीना राजपूत, सचिव दीपिका टिर्की, महामंत्री सुजाता सहित अन्य नर्स भी मौजूद थीं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *