Sharing is caring!

After Padmaavat Kangana Ranaut's film Manikarnika faces oposition by Brahmin groupलगता है आजकल हर फिल्म का विरोध करना ट्रेंड सा बन गया है। राजस्थान में पद्मावत के बाद अब झांसी की रानी लक्ष्मीबाई पर बन रही फिल्म मणिकर्णिका के विरोध में सुर उठने लगे हैं। ब्राह्मण समाज ने फिल्म मणिकर्णिका में इतिहास के तथ्यो के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। फिल्म के खिलाफ ‘सर्व ब्राह्मण महासभा’ ने विरोध करना शुरू कर दिया है। इस समय ‘मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी’ की शूटिंग राजस्थान में जारी है। आइए जानते हैं कि आखिर इस विरोध की वजह क्या है?ब्राह्मण समाज का कहना है फ़िल्म प्रोडूसर को चेतावनी भरा पत्र लिखा है। इस पत्र में लिखा गया है कि इस फिल्म की जानकारी उपलब्ध कराई जाए, जब तक फ़िल्म के ऐतिहासिक तथ्यों की जानकारी नही दी जाएगी तब तक राजस्थान के फिल्म की शूटिंग नही होने देंगे।nullफिल्म ‘मणिकर्णिका  में कंगना रनौत लीड रोल निभा रही हैं। विरोध कर रही सर्व ब्राह्मण महासभा का कहना है कि फिल्म में रानी लक्ष्मी बाई के किरदार को सही तरीके से पेश नहीं किया जा रहा है और इसकी शूटिंग तुरंत रोक देनी चाहिए। इस फिल्म के खिलाफ करणी सेना भी सर्व ब्राह्मण महासभा का साथ देने वाली है। nullआपको बता दें कि राजस्थान के बीकानेर में फ़िल्म की शूटिंग प्रस्तावित है। फिलमें में कंगना रानोट रानी लक्ष्मी बाई का रोल अदा कर रही हैं। आरोप हैं कि इस फ़िल्म में अंग्रेज अधिकारी के साथ रानी लक्ष्मी बाई की गहरी मित्रता दिखयी गई है। इसको लेकर ब्राह्मण समाज ने विरोध जताना शुरू कर दिया है।null‘सर्व ब्राह्मण महासभा’ के राज्य अध्यक्ष सुरेश मिश्रा ने कहा, ‘फिल्म की शूटिंग राजस्थान में चल रही थी। फिल्म के कुछ सीन और गाने की शूटिंग के दौरान हमें पता चला कि इसमें रानी लक्ष्मी बाई को एक अंग्रेज के साथ अफेयर करते दिखाया जाएगा।”मिश्रा ने आगे कहा, “हमने पढ़ा की फिल्म के कुछ हिस्से एक किताब से लिए गए हैं जिसका नाम रानी है। इसे लंदन की लेखिका जयश्री मिश्रा ने लिखा है। किताब के विवादित होने की वजह से इसे उत्तर प्रदेश सरकार ने बैन किया हुआ है। वहीं फिल्म मेकर ने इस प्रतिबंधित किताब के आधार पर अपनी फिल्म बनाई है।”

Sharing is caring!