October 26, 2021
Breaking News

पीएम मोदी की दिनचर्या आज में जीना, शाकाहारी भोजन खाना, और योग

पीएम मोदी की दिनचर्या आज में जीना, शाकाहारी भोजन खाना, और योग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के दौरे पर जाने वाले हैं. 11 फरवरी को दुबई में होने वाले वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में प्रधानमंत्री हिस्सा लेंगे. शनिवार 10 फरवरी से यूएई की दो दिवसीय यात्रा से पहले ‘गल्फ न्यूज एक्सप्रेस’ को दिये साक्षात्कार में मोदी ने इसके साथ अपनी दिनचर्या के बारे में बताते हुए कहा कि वह चार से छह घंटे सोते हैं और उन्हें सादा शाकाहारी भोजन पसंद है. अपनी यात्रा के बारे में उन्होंने कहा कि वह शेख मोहम्मद बिन रशीद अल मखतूम, यूएई के उप-राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री तथा दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान, अबू धाबी के शाहजादे तथा यूएई सशस्त्र बल के उप-सर्वोच्च कमांडर से मुलाकात करेंगे।

आज में जीना पसंदीदा

चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि ‘टुडे’ यानी आज मेरा पसंदीदा दिन है. मैं आज में जीने वाला हूं. सिर्फ आज का दिन हमारे हाथ में होता है. ताकि हम कड़ी मेहनत करें और अपनी आकांक्षाओं को पूरा करें।

योग से होती है दिन की शुरुआत
सोने की आदत और दैनिक दिनचर्या के बारे में पूछे जाने पर 67 साल के प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मैं चार से छह घंटे की नींद लेता हूं जो कामकाम पर निर्भर करता है. लेकिन मैं हर रोज गहरी नींद लेता हूं. वास्तव में बिस्तर पर जाते ही मैं कुछ ही मिनटों में सो जाता हूं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं सोते समय कोई चिंता करते नहीं सोता और रोज सुबह तरोताजा होकर जागता हूं और नये दिन का स्वागत करता हूं। मोदी ने कहा कि उनके दिन की शुरुआत योग से होती है.

शाकाहारी भोजन पसंद
उन्होंने कहा, ‘मैं नरेंद्र मोदी मोबाइल एप पर नागरिकों की टिप्पणी और प्रतिक्रिया को देखता हूं. यह देश भर के लोगों से जुड़े रहने का एक बेहतरीन तरीका है.’ मोदी ने कहा, ‘बिस्तर पर जाने से पहले मेरे पास भेजे गये दस्तावेज को देखता हूं. मैं अगले दिन की बैठकों की भी तैयारी करता हूं.’ पसंदीदा भोजन के बारे में पूछे जाने उन्होंने कहा, ‘मैं खाने का बहुत शौकीन नहीं हूं. मैं रोज साधारण शाकाहारी भोजन पसंद करता हूं।

सवालः वो कौन से व्यक्ति हैं, जिनसे आपको सबसे ज्यादा प्रेरणा मिलती है?

पीएम मोदीः कई सारे लोगों से मुझे प्रेरणा मिलती है और निश्चित रूप से मैं आपको इनमें से कुछ लोगों के बारे में बताऊंगा.

बचपन से ही मुझे स्वामी विवेकानंद से मुझे प्रेरणा मिलती रही. इसके साथ महात्मा गांधी ने भी मुझे प्रेरित किया है. गरीबों के प्रति उनका लगाव हो या शांति और अहिंसा के साथ स्वतंत्रता आंदोलन में हर एक व्यक्ति को जोड़ लेना. निश्चित रूप से ये चीजें आपको प्रेरित करती है। इनके अलावा सरदार वल्लभ भाई पटेल, डॉ. बाबा साहेब अंबेडकर, भगतसिंह, बेंजामिन फ्रेंकलिन आदि लोगों से  भी मुझे काफी प्रेरणा मिलती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *