October 18, 2021
Breaking News

घर बैठे बैठे ही पता कर सकते है कि आपके खाते में कितनी सब्सिडी आई है

घर बैठे बैठे ही पता कर सकते है कि आपके खाते में कितनी सब्सिडी आई है

नई दिल्ली: एक समय ऐसा था जब एलपीजी सिलेंडर लेने के लिए लोगों को लम्बी-लम्बी लाइनें लगानी पड़ती थीं, फिर सरकार की तरफ से सिलेंडर पर सब्सिडी स्कीम की शुरआत हुई।अब इसमें से सरकार आपको डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर फॉर एलपीजी यानि डीबीटीएल स्कीम के तहत सब्सिडी के तौर पर आपके अकाउंट में ट्रांसफर करती है। लेकिन क्या आपको पता है कि मिलने वाला सब्सिडी आपके खाते में आ भी रहा है कि नहीं। आइये आज हम आपको एक तरीका बता रहे हैं। जिससे आप घर बैठे ही पता लगा सकते हैं कि आपके अकाउंट में कितनी बार और कब-कब सब्सिडी आई है? केंद्र की सत्ता पर काबिज होने के बाद मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना लेकर आई। इस योजना के तहत गरीब महिलाओं को मिट्टी के चूल्‍हे से आजादी दिलाने और ‘चेहरे पर चमक’ लाने के उद्देश्य से मुक्त गौस कनेक्शन दिया, इस योजना का लाभ कई परिवारों को मिला है, लेकिन अब भी ऐसे बहुत से परिवार हैं जो सरकार की ओर टकटकी लगाए बैठे हैं।

आपको बता दें कि एक ओर सरकार ने गरीब परिवारों को फ्री में गैस कनेक्शन दिया तो वहीं अमीर परिवारों से अपील किया कि वे गैस पर सरकार की ओर से मिलने वाली सब्सिडी को छोड़ दें, ताकि इसका लाभ किसी गरीब परिवार को मिल सके। सरकार की बात मानते हुए कई लोगों ने सब्सिडी का त्याग कर दिया।
लेकिन इसके बाद अब जिन्हें सब्सिडी का लाभ मिल रहा है, उनके लिए एक बड़ी समस्या यह है कि अपनी सब्सिडी की रकम पत करने के चक्कर में ऐसे लोगों का ज्यादातर समय सरकारी दफ्तर या बैंक की चक्कर लगाने में ही कट रहा है। लेकिन अब शायद आपको इस परेशानी से भी आजादी मिल सकती है।
कैसे करें पता
दरअसल आज आपको एक ऐसी तरकीब बता रहे हैं, जिसकी मदद से आप अपनी सब्सिडी की रकम की जांच घर बैठे-बैठे ही कर सकते हैं और पता लगा सकते हैं कि आपको कितने का सब्सिडी मिला है। इस काम आपके लिए सबसे अधिक मददगार साबित होगा आपका स्मार्टफोन! इसके लिए आप अपने स्मार्टफोन पर www.mylpg.in ओपन करें। अपने सर्विस प्रोवाइडर (गैस कंपनी) का नाम चुने, इसके बाद आपसे LPG आईडी और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर मांगा जाएगा। जिसके भर कर ok करें, आपकी सब्सिडी की पुरी आपके सामने होगी। यहां आपको बता दें कि अगर आपको मिली सब्सिडी में कुछ समस्या है तो यहां आपको एक फीडबैक का विकल्प मिलता है, जिस पर क्लिक कर आप शिकायत कर सकते हैं, या फिर टोल फ्रि नंबर पर 18002333555 पर फोन कर बात करने के साथ-साथ शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *