October 19, 2021
Breaking News

रोजगार गारंटी योजना के कार्य में फर्जीवाड़ा, ग्राम पंचायत कलमीटर का मामला।

रोजगार गारंटी योजना के कार्य में फर्जीवाड़ा, ग्राम पंचायत कलमीटर का मामला।

*चांदा- तालाब के गोदी कार्य में मस्टर रोल में फर्जीवाड़ा, ग्रामीण करेंगे कलेक्टर जनदर्शन में शिकायत।*

*दिनाँक:–22–02–2018*


*संवाददाता:– मोहम्मद जावेद खान करगीरोड कोटा हरित छत्तीसगढ़।*

करगीरोड कोटा:–*कोटा विकासखंड के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत कलमीटर में रोजगार गारंटी योजना के तहत चल रहे गोदी कार्य में फर्जीवाडा का मामला सामने आने पर गांव के ही ग्रामीणों और रोजगार सहायकों के बीच जमकर वाद विवाद हुवा ग्रामीणों द्वारा फर्जी हाजिरी की कलेक्टर-जनदर्शन में शिकायत करने की बात कह रहे हैं ,वही जिम्मेदार अधिकारी इंजीनियर ने इस संबंध में किसी प्रकार की जानकारी देने पर मौन रही।


कोटा विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत कलमीटार है जहां रोजगार गारंटी योजना के तहत चांदा तालाब में 7 लाख की लागत से गोदी का कार्य चल रहा है। यह गोदी कार्य विगत 1 माह से जारी है जहां 142 ग्रामीण गोदी का कार्य कर रहे हैं। गौरतलब है,कि राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में ग्रामीण बेरोजगारी भूख और गरीबी से निजात पाने के लिए केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजना का शुभारंभ 2005 में किया गया था इस योजना में हर वित्तीय वर्ष में इच्छुक ग्रामीण परिवार के किसी भी अकुशल वयस्क को सार्वजनिक कार्य वैधानिक न्यूनतम भत्ते पर करने के लिए 100-दिनों का रोजगार गारंटी कार्य के तहत यहां गोदी का काम कराया जा रहा है, जहां हो रहे गोदी कार्य में पंचायत प्रतिनिधि और विभागीय अधिकारी के साथ मिलकर मस्टर रोल में फर्जी हाजिरी भरा जा रहा है, वही जिसके नाम से जाबकार्ड बना है। उनके बदले रिश्तेदार काम कर रहे हैं, इन सब बातों की शिकायत चांदा तालाब पर हो रहे गोदी कार्य पर निरीक्षण करने पहुंचे इंजीनियर से की लेकिन ग्रामीणों की शिकायत का अधिकारी पर कुछ असर नहीं पड़ा और पंचायत प्रतिनिधियों को डांटते हुए आगे ऐसा कार्य नहीं करने की नसीहत देते छोड़ दी गई तब ग्रामीणों ने इस बात की शिकायत कलेक्टर जनदर्शन में करने की बात कहते नजर आए।


*कार्य स्थल पर सूचना पटल नहीं।*

चांदा तालाब में हो रहे रोजगार गारंटी योजना कार्य की उस स्थल पर किसी प्रकार की कोई सूचना पटल नहीं लगाया गया है जिससे कि जानकारी मिल सके कि इस गोदी कार्य के लिए शासन के द्वारा कितनी राशि आवंटित हुई है।

*ग्रामीणों के लिए सुविधा नहीं*

लाखों रुपए की लागत से चांदा तालाब में रोजगार गारंटी योजना के तहत गोदी का कार्य कराया जा रहा है ,इस कार्य में लगभग 142 ग्रामीण कार्य कर रहे हैं जहां इन ग्रामीणों के लिए पानी और ना ही उपचार की किसी प्रकार की कोई सुविधा मुहैया कराई गई है ।

*जॉब कार्ड किसी और का कार्य कोई और कर रहा है।*

ग्राम पंचायत कलमीटार में चल रहे गोदी कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे इंजीनियर ने जब मस्टररोल चेक किया तो पता चला कि कई ग्रामीणों के बदले उनके रिश्तेदार काम कर रहे हैं तब उनके द्वारा पंच-सरपंच और रोजगार सहायक को निर्देशित किया गया है कि तत्काल प्रस्ताव बनाकर उन्हें दे कि जॉब कार्ड धारी के बदले उनके रिश्तेदार काम कर रहे हैं।

*ग्रामीणों ने रोजगार सहायिका पर लगाया आरोप।*

चांदा तालाब में कार्य कर रहे हैं ग्रामीणों का आरोप है कि रोजगार सहायिका और सरपंच साथ मिलकर यहां कई लोगों का मास्टर रोल में हाजिरी भरा जा रहा है और कई लोगों को काम पर पूरा दिन आने पर भी आधा भुगतान करने का आरोप लगाते हुए इंजीनियर से शिकायत की।

*इंजीनियर द्वारा इस मामले पर चुप्पी साध ली गई।*

विगत दिनों इंजीनियर द्वारा इस कार्य का निरीक्षण करने स्थल पर पहुंची तब उन्हें इस मामले की जानकारी हुई ,जैसे कि फर्जी हाजिरी भरने व जाब कार्ड किसी और का कार्य कोई और कर रहा है तथा और ऐसे कई मामले सामने आए लेकिन इंजीनियर ने इन सभी मामलों पर चुप्पी साध ली।

गांव के ही ग्रामीण देव कुमार जायसवाल बताया गया कि मेरे द्वारा जब निरीक्षण करने पहुंची इंजीनियर को रोजगार सहायक के द्वारा फर्जी मस्टररोल भरने व जॉब कार्ड धारी के बदले किसी अन्य के द्वारा कार्य करने और ऐसे कई मामले की स्थल पर ही शिकायत किया गया लेकिन इंजीनियर द्वारा इन सब को अपनी आंखों से भी देखते हुए किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की इस वजह से इसकी शिकायत अब हम ग्रामीणों के द्वारा कलेक्टर जनदर्शन में शिकायत किया जाएगा।

गांव के ही जॉब कार्ड धारी सावित्रीबाई द्वारा बताया गया कि इस गोदी के कार्य में बहुत लोग काम नहीं करते है ,हाजिरी भरने की समय ही सभी लोग आ जाते हैं, लेकिन सभी का हाजिरी भर दिया जाता है।
कलमीटर ग्राम पंचायत के सरपंच अमर सिंह से बात करने पर बताया गया कि मुझे इस संबंध में जानकारी नहीं है,मैं बाहर था कल ही आया हूं पता करता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *