October 18, 2021
Breaking News

Holi 2018: होली पर भारत में अजीबो-गरीब तरीके से निभाई जाती है ये अजीबो-गरीब परंपराएं

Holi Special: होली पर भारत में निभाई जाती है ये अजीबो-गरीब परंपराएं

Holi Special: होली पर भारत में निभाई जाती है ये अजीबो-गरीब परंपराएं

होली रंगो का त्योहार है। ऐसा कहा जाता है कि होली के दिन लोग पुराने गिले-शिकवे भूलकर दुश्मन को भी गले लगा देते हैं। होली रंगों की बौछार और पकवानों की मिठास के साथ-साथ घर में खुशियों का माहौल भी लाता है। होली का त्यौहार रंगों के साथ-साथ घर में खुशियों का माहौल लेकर भी आता है। इस दिन हर कोई एक दूसरे को रंग लाता है। भारत देश के लगभग हर राज्य में रंगो के साथ इस त्यौहार को सेलिब्रेट किया जाता है। वैसे तो इस त्यौहार को लेकर कई कहानियां और परंपराएं लेकिन आज हम आपको इस त्यौहार से जुड़ी कुछ अजीबो-गरीब परंपराओं के बारे में बताने जा रहें है। भारत के कुछ राज्यों में होली को लेकर बहुत सी परंपराए आज भी निभाई जाती है। होली पर लोग एक दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएं देते हैं। पूरे भारत में होली का त्योहार मनाया जाता है। लेकिन जिस तरह हर राज्य की संस्कृति अलग है उसी तरह होली मनाने की प्रक्रिया भी अलग-अलग है।तो चलिए जानते है होली के त्यौहार से जुड़ी कुछ अलग-अलग तरह की परंपराए।

1. मध्यप्रदेश
मध्यप्रदेश के एक गांव में भील युवक हाथों में मांदल नामक वाद्य यंत्र लेकर बजाते हैं और नृत्य करते हुए युवती को गुलाल लगा देते है। अगर युवती भी युवक को रंग लगा देती है तो इसे रजामंती समझी जाती है। इसके बाद दोनों भाग जाते है और उनकी शादी हो जाती है।

PunjabKesari

2. मध्यप्रदेश, मालवा
मध्यप्रदेश के मालवा क्षेत्र में होली के दिल लोग एक-दूसरे पर अंगारे फैंकते है। ऐसा माना जाता है कि इस तरह अंगारे फैंकने से होलिका राक्षसी का अंत हो जाता है।

3. उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश के कुंडरा गांव में पुरूषों को होली नहीं खेलने दी जाती। इस दिन पूरे गांव की महिलाएं राजजानकी मंदिर में इकट्ठी होकर फाग गाने गाते हुए होली खेलती है। महिलाएं इसी तरह होली खेलती और गीत गाते हुए गांव के हर मंदिर में जाती है।

PunjabKesari

4. हिमाचल प्रदेश
हिमाचल प्रदेश मंडी जिले के सुकेत इलाके में होली पर बहन-बेटियों को रोटी मायके से भेजी जाती है, जिसे बांटा भी कहा जाता है। लोगों का मानना है कि मायके की जमीन में उगी फसल का शेयर इस बांटे के रूप में बेटियों को प्रतीक के रूप में दिया जाता है।

5. ब्रज
ब्रज के बरसाना गांव में होली के टोलियां जब पिचकारियां मारती है तो महिलाएं उनपर लाठियां बरसाती हैं। पुरुषों को इन लाठियों से बचकर महिलाओं को रंगों से भिगोना होता है। इसे लठमार होली भी कहा जाता है।

PunjabKesari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *