October 19, 2021
Breaking News

पनीर व दही बड़ा खाकर नवोदय स्कूल के 270 छात्र-छात्राओं का हुआ ये हाल, 46 गंभीर, पहुंचे विधायक-कलक्टर

पनीर व दही बड़ा खाकर नवोदय स्कूल के 270 छात्र-छात्राओं का हुआ ये हाल, 46 गंभीर, पहुंचे विधायक-कलक्टर

होली में दोपहर व रात को स्कूल के मेस में बना था विशेष भोजन, गंभीर 46 बच्चे जिला अस्पताल में भर्ती, जिले में मचा हड़कंप

हरित छत्तीसगढ़ सूरजपुर.
होली त्यौहार में नवोदय स्कूल के बच्चों ने जमकर रंग-गुलाल खेले। इस दौरान स्कूल में विशेष भोजन के रूप में मटर-पनीर की सब्जी व दही बड़ा बना था। दोपहर व रात को यहां के बच्चों ने यह भोजन खाया। शनिवार की सुबह 3 बजे से ही कुछ छात्राओं को पेट दर्द व उल्टी की शिकायत हुई। धीरे-धीरे स्कूल के 270 बच्चों की हालत बिगड़ गई।

स्कूल प्रबंधन ने इसकी सूचना तत्काल स्वास्थ्य अधिकारियों को दी। सूचना मिलते ही उनका इलाज शुरु कर दिया गया। फिलहाल 46 गंभीर बच्चों को जिला चिकित्सालय सूरजपुर में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। वहीं 26 बच्चे बसदेई स्वास्थ्य केंद्र व कैंप में भर्ती हैं।

 

अन्य सभी बच्चों की हालत में सुधार आ जाने से छुट्टी दे दी गई। फूड प्वाइजनिंग की शिकायत मिलते ही विधायक, कलक्टर व सरपंच सहित स्थानीय नेताओं ने बच्चों ने दिनभर बच्चों का हाल-चाल जाना। माना जा रहा है कि पनीर ? व दही बड़ा दूषित हो जाने के कारण बच्चों की तबीयत बिगड़ी।

सूरजपुर जिले के बसदेई स्थित नवोदय स्कूल में 576 बच्चे 6 हाउस में अध्ययनरत हैं। 2 हाउस में बालिकाएं तथा 4 हाउस में बालक रहते हैं। होली के अवसर पर सभी बच्चों ने जमकर मस्ती की। इस दौरान स्कूल प्रबंधन द्वारा विशेष भोजन बनाया गया था। दोपहर में बच्चों ने मटर-पनीर की सब्जी व दही बड़ा खाया। रात में भी कई बच्चे यही भोजन खाकर अपने-अपने हाउस में सोने चले गए।

शनिवार की सुबह करीब 3 बजे कुछ बच्चियों को उल्टी-दस्त शुरु हो गई। स्कूल प्रबंधन द्वारा उन्हें तत्काल बसदेई स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया। धीरे-धीरे सभी हाउस से उल्टी-दस्त की शिकायत आने लगी। इससे स्कूल प्रबंधन में हड़कंप मच गया। उन्होंने तत्काल इसकी सूचना सीएमएचओ को दी। सूचना मिलते ही स्वास्थ्य अमले ने मोर्चा संभाल लिया।

अमले द्वारा 270 बच्चों को बसदेई स्वास्थ्य केंद्र सहित स्कूल में ही वार्ड बनाकर इलाज शुरु कर दिया गया। इनमें से गंभीर रूप से पीडि़त 46 बच्चों को सूरजपुर चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। बसदेई के 2 कैंप में सीएमएचओ डा. एसपी वैश्य, बीएमओ डा. आरएस सिंह, डा. मीना सोनी, डा. संध्या जायसवाल, डा. एमएल कुशवाहा, डा. कुलदीप द्विवेदी, डा. रोहित पटेल, डा. मुकेश गुप्ता, डा. नवनीत दुबे बच्चों का इलाज करते रहे।

पहुंचे विधायक-कलक्टर
फूड प्वाइजनिंग के शिकार बच्चों की सूचना मिलते ही कलक्टर केसी देवसेनापति, सीईओ संजीव झा, तहसीलदार नंदजी पांडेय, नायब तहसीलदार उमेश कुशवाहा, टीआई दीपक पासवान, बसदेई चौकी प्रभारी कपिलदेव पांडेय ने बच्चों की स्थिति का जायजा लिया। इधर घटना की सूचना मिलने पर क्षेत्रीय विधायक खेलसाय सिंह, भाजपा नेता बाबूलाल अग्रवाल, बसदेई सरपंच फुलेश्वरी सिंह ने भी पूरे दिन बच्चों का हाल-चाल जाना।

हो सकती थी बड़ी घटना
स्कूल की प्रबंधन की सूचना पर तत्काल स्वास्थ्य अमला इलाज में जुट गया। समय रहते बच्चों का इलाज शुरु कर दिया गया, अन्यथा एक बड़ी घटना हो सकती थी। फिलहाल 72 बच्चों का ही सूरजपुर जिला चिकित्सालय व बसदेई में इलाज चल रहा है। अन्य सभी बच्चों की हालत सामान्य होने पर उनके माता-पिता छुट्टी कराकर घर ले गए।

फूड विभाग ने लिया सैंपल
फूड प्वाइजनिंग का शिकार हुए बच्चों की हालत को देखते हुए जिला प्रशासन के निर्देश पर फूड विभाग द्वारा खाद्य सामग्रियों के सैंपल लिए गए। बताया जा रहा है कि दही देवभोग दूध से बना था। इसके अलावा पनीर सहित अन्य के सैंपल लेकर जांच के लिए रायपुरभेजा गया।

तीन टीम की सक्रियता से कंट्रोल हुई स्थिति
इस संबंध में नवोदय विद्यालय के प्राचार्य डीके साहू ने बताया कि फूड प्वाइजनिंग की सूचना उन्होंने तत्काल जिला प्रशासन को दी। कलक्टर व सीएमएचओ के निर्देश पर बीएमओ सहित डा. रोहित पटेल और डा. नवनीत दुबे ने विद्यालय परिसर के 2 4 कमरों में स्वास्थ्य एवं उपचार शिविर लगाया। वहीं डा. कुलदीप द्विवेदी, डा. मीना सोनी, डा. संध्या जायसवाल, डा. एमएल कुशवाहा एवं डा. मुकेश गुप्ता की टीम ने बसदेई स्वास्थ्य केंद्र में उपचार किया। इसके अलावा 46 बच्चों का जिला चिकित्सालय में डा. सीमा गुप्ता, डा. गरिमा सिंह, डा. हर्षवर्धन शर्मा व डा. अजय मरकाम सहित अन्य इलाज कर रहे हैं।

जमीनी कार्यकर्ता भी रहे मुस्तैद
200 से भी अधिक बच्चों की तबीयत बिगडऩे की शिकायत पर डॉक्टरों के साथ जमीनी स्वास्थ्य टीम ने भी मुस्तैद रहा। इनमें दिनेश राजवाड़े, संतोष साहू, प्रियंका घोष, सविना मंसुरी, माया शर्मा, संगीता सिंह, भूपेंद्र सिंह , मो. अली हुसैन, विकास कुशवाहा, रमेश कुशवाहा, अनिल कुशवाहा, सुनील पाटकर, मोहरलाल, अंजुम निशा, ज्योति मांझी, राजकुमारी राजवाड़े, पूनम शर्मा, विमला स्वामी, सरिता, चंद्रकला, केएस अब्राहिम, साहिदा खातून, भगवती, सीमा, ममता सिंह, गंगोत्री, यशोदा, शिखा बघेल, गणेश्वर सिंह, लक्ष्मण राम, दिलेश्वर, आदित्य शर्मा, राज साहू सहित अन्य सक्रिय रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *