October 18, 2021
Breaking News

मुड़पार सरपंच पति ने साबित किया ,समाज आज भी है पुरुष प्रधान,, महिलाओं का सम्मान केवल दिखावा

मुड़पार सरपंच पति ने साबित किया ,समाज आज भी है पुरुष प्रधान

महिलाओं का सम्मान केवल दिखावा


बसंत चंद्रा

मालखरौद :-एक तरफ पूरे देश में 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जा रहा है ।सरकार के द्वारा भी महिलाओं की सम्मान की बात कहीं जा रही है। ताकि महिलाओं को उनका वाजिब सम्मान एवं अधिकार मिले। लेकिन जनपद पंचायत मालखरौदा के ग्रामीण यांत्रिकी सेवा कार्यालय में कुछ अलग ही नजारा आज देखने को मिला।कार्यालय में जो देखने को मिला उससे यही सिद्ध होता है की महिलाओं का सम्मान केवल जबान तक है। उसको कार्य के रूप में परिणीत नहीं किया जा रहा है। मुड़पार के सरपंच पति अनिल साहू के कृत्य ने इस बात को साबित कर दिया कि आज भी समाज पुरुष प्रधान है । महिलाओं की सम्मान की बात केवल जुमला है। विदित हो कि महिला सरपंच के पति अनिल साहू कुछ प्रस्ताव की कॉपियां लेकर ग्रामीण यांत्रिकी सेवा कार्यालय पहुंचे थे और देखते ही देखते वहीं पर प्रस्ताव की कॉपी में सील लगाकर सरपंच का हस्ताक्षर करने लगे ।यह ऐसा नजारा था मानो सरपंच पति को किसी प्रकार का डर ही नहीं रह गया है ।अभी तक सरपंच पति फाइलों को जनपद के आर ई एस के बाबू नारायण जायसवाल के पास जमा करते थे और कार्य कराते थे। यह देखने में आता था। लेकिन इसे देखकर कोई भी चकरा जाएगा कि सरकारी दस्तावेज में सरपंच पति सील लगाकर कर सरपंच से हस्ताक्षर लेने के बजाए स्वयं हस्ताक्षर कर रहा है। गौर करने वाली बात है कि उनके साथ में सचिव नहीं थे और न ही सरपंच । यह दृश्य देखने से ऐसा लगा मानो यह परंपरा लंबे समय से चला आ रहा हो ।तभी तो सरपंच पति को प्रस्ताव में हस्ताक्षर करने में डर तक नहीं लगा ।

कार्यालय के बाबू के समक्ष सरपंच पति ने किया सरपंच का हस्ताक्षर

हद तो तब हो गई जब ग्रामीण यांत्रिकी सेवा कार्यालय के बाबू के सामने सरपंच का हस्ताक्षर सरपंच पति के द्वारा होता रहा और वह भी सरपंच पति को कुछ नही बोले और उस दस्तावेज को स्वीकार भी कर लिये ।ऐसे में समझा जा सकता है कि बाबू इंजीनियर और अधिकारी के संरक्षण के कारण ही इस प्रकार का बेखौफ कृत्य सरपंच पति के द्वारा किया जा रहा है। इन्हीं संरक्षण के कारण सरपंच पति में डर की भावना खत्म हो गई है और जनपद तक मे उनके हौसले बुलंद है ।

क्या कहते हैं जनपद सीईओ

अगर ऐसा है तो जांच कराकर नियमानुसार कार्यवाही किया जावेगा।

वीके सोनी
जनपद सीईओ
मालखरौदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *