October 19, 2021
Breaking News

एआईसीसी में शामिल कर सुनील अग्रवाल का कद पार्टी में बढ़ाया गया

एआईसीसी में शामिल कर सुनील अग्रवाल का कद पार्टी में बढ़ाया गया

सूरजपुर:- छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के ए आई सी सी सदस्य की सूची घोषित कर दी गई है.इसमे सुरजपुर निवासी सुनील अग्रवाल को भी सदस्य बनाया गया है जिससे निश्चित तौर से उनका कद अब कांग्रेस पार्टी में बढ़ता हुवा देखा जा सकता है ।चुनाव वर्ष में एआईसीसी सदस्यों के चयन में सभी वर्गों को तवज्जो देने के साथ युवाओं और महिलाओं को भी अर्जी दी गई है.इनमें 29 सदस्यों के साथ को ऑपरेशन सूची में 10 अन्य सदस्यों के नाम शामिल है.वहीं प्रदेश के लगभग सभी वरिष्ठ नेताओं को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का सदस्य बनाया गया है.हालांकि सूची में नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंह देव एवं पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा शामिल नहीं है,उनके स्थान पर उनके परिवार के एक सदस्य को जरूर जगह दी गई है।

एआईसीसी सदस्यों की सूची में जातीय संतुलन के साथ परिवारवाद से परहेज किया गया है यही वजह है.कि एक परिवार के एक से अधिक सदस्य को जगह नहीं मिली है.इधर क्षेत्रीय तालमेल बनाने की कोशिश कोशिश से भी नजर आ रही है.इस बार युवा कांग्रेस में सक्रिय रहने वाले नेताओं को भी महत्व मिला है.इसके अलावा वरिष्ठ नेताओं के साथ जुड़े समर्थकों को साथ लेकर भी साधने की कोशिश हुई है.इधर दिग्गज नेत्री करुणा शुक्ला को जगह दे कर भी भरोसा जताया है.सूची में 16 महिलाओं के साथ अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के 17 नेताओं को शामिल किया गया है साथ ही पिछड़ा वर्ग के 12 नेताओं को जगह दी गई है.पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल का दबदबा जरूर नजर आ रहा है.इसके बावजूद अन्य नेताओं के समर्थकों को भी महत्व मिला है।

डॉ. चरण दास महंत के करीबी जयसिंह अग्रवाल एवं सुभाष धुप्पड़ जगह बनाने में सफल रहे.इधर,नेता प्रतिपक्ष के परिवार से एक सदस्य के साथ राजेश तिवारी को भी उनका करीबी माना जाता है.वह के साथ उनके नजदीकी सुभाष शर्मा को भी जगह मिली सत्यनारायण शर्मा के बजाय उनके बेटे पंकज शर्मा को लिया गया है।

जांजगीर जिला कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर सदस्यता अभियान में प्रदेश भर में सबसे अधिक सदस्य बनाकर अव्वल रहने वाली मंजू सिंह को भी महत्व दिया गया है.संचार विभाग अध्यक्ष शैलेश त्रिवेदी ने दावा किया कि सूची में 40 वर्ष की उम्र के 15 सदस्य शामिल हैं.एआईसीसी सदस्यों की सूची में वरिष्ठ नेताओं को अलग कर दें तो इस बार ज्यादातर करीब फीसदी से अधिक नए चेहरों को मौका मिला है।

ये वरिष्ठ नेता शामिल।

मोतीलाल वोरा,भूपेश बघेल,डॉ चरणदास महंत,रविंद्र चौबे,धनेंद्र साहू,मोहम्मद अकबर,ताम्रध्वज साहू,करुणा शुक्ला,छाया वर्मा,अमितेश शुक्ला,रामपुकार सिंह,डॉक्टर शिव हरिया,रामदयाल उइके,कवासी लखमा,राजेंद्र तिवारी,जयसिंह अग्रवाल,राजेश तिवारी,खेल सहाय सिंह,देवती कर्मा,गंगा पोटाई,इंग्लिश में क्लाउड,प्रतिमा चंद्राकर,उमेश पटेल,पीआर खूंटे,आदित्यसरण सिंह देव,राम गोपाल अग्रवाल,मोहन मरकाम,सुभाष शर्मा,गिरीश देवांगन,पंकज शर्मा,दीपक दुबे,सुभाष दुखपर,रुद्र गुरु,मंजू सिंह,उत्तम वासुदेव,पंकज मिश्रा,संजय सिंह,पारस चोपड़ा एवं श्यामू कश्यप।

सहयोजन में शामिल सदस्य।

कमला मनोहर,राजकुमारी दीवान,फूलो देवी नेताम,नीना रतिया,अनीता राउटर,सीमा सोनी,प्रभा पटेल,कांति बंजारे,नीता लोधी,सुनील अग्रवाल(बॉबी)।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *