November 29, 2021
Breaking News

रमन सरकार गौ हत्यारे की सरकार:जोगी कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

हरित छत्तीसगढ़ विवेक तिवारी पत्थलगांव। राजापुर और गोर्डमर्रा की गौशाला मे भ्रष्टाचार अनियमितताएं एंव गायों को भुखा मारने के जघन्य अपराध के दोषी मुख्यमंत्री, मंत्रियों व अधिकारियों को बताते हुये हत्यारे के खिलाफ जुर्म दर्ज करने की मांग को लेकर पत्थलगांव धर्मशाला सामने जोगी कांग्रेस नेताओं ने धरना प्रर्दशन किया। इस दौरान जोगी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष एम एस पैंकरा ने भाजपा के दोहरे चरित्र को उजागर कर कटाक्ष करते हुए कहा कि ये वही बीजेपी है जिन्होंने गौ-माता को सत्ता हथियाने का माध्यम बनाया और सत्ता में काबिज हो गई है। उन्होने गौ हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह एवं पशुपालन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल से इस्तीफे की मांग की। इस दौरान उन्होने पत्थलगांव क्षेत्र की बदहाल सड़के, पत्थलगांव को जिला बनाए जाने के वादा से मुकरने वाली भाजपा सरकार पर जमकर बरसते हुए कहा कि गौ हत्या के मामले मे सरकार की चुप्पी देखकर साफ जाहिर होता है कि गौमाता को लेकर भाजपा सरकारों की कथनी और करनी में फर्क है।उन्होने कहा कि राजस्व बढ़ाने के लिए सरकार ने शराबंदी के अपने संकल्प को भूला दिया है। उन्होने रमन सरकार को हर मामले मे फैल हो चुकी बताते हुए कहा कि चाहे वह भ्रष्टाचार पर नो टालरेंस की नीति हो, किसानों को धान-बोनस देने की बात हो या फिर गौशालाओं में गायों की मौत के दोषियों पर कार्रवाई की बात हो हर मामले में रमन सरकार विफल हो चुकी है।
यहंा मौजुद जोगी कांग्रेस के प्रदेश सचिव हंसराज अग्रवाल ने भी जमकर हुंकार भरते हुए रमन सरकार को उखाड़ फंेकने की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा कि अजीत जोगी और हमारी पार्टी की ताकत का अंदाजा आगामी चुनाव मे देखने को मिल जाएगा जब हमारी सरकार होगी। उन्होने जशपुर जिले मे विकास के नाम पर चल रहे भ्रष्टाचार के खेल को लेकर भाजपा को आड़े हाथों लिया साथ ही किसानों की अनदेखी,क्षेत्र की एकमात्र यातायात साधन नेशनल हाईवे सड़क की दुर्दशा और पत्थलगांव को जिला बनाने की घोषणा के बावजुद वादों से मुकरने पर रमन सरकार को भी आड़े हाथों लेते हुए गौ हत्या के मामले मे सरकार को खुब खरी खोटी सुनाई उन्होने कहा कि भाजपा के लिए गौमाता महज एक मुद्दा है जिसे लेकर वह जनता की भावनाओं से खेलती आई है। उन्होने कहा कि राज्य के अधिकांश गौशाला संचालक किसी न किसी मंत्री के करीबी हैं, इसलिए उन पर सीधे कार्रवाई करने के निर्देश कभी नहीं दिए जाते, इसलिए उन पर महज दिखावे के लिए कार्रवाई की जाती है और मुख्यमंत्री महज सुर्खियां बटोरने के लिए फांसी पर लटका देंगे जैसा बयान देते हैं।
यहां उपस्थित जोगी कांग्रेस के जिला संयोजक व महामंत्री विजय शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इसी वर्ष गौहत्यारों को फांसी पर लटका देंगे कहते हुए राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां जरुर बटोर ली थी, लेकिन प्रदेश मे हुए गौ हत्या प्रकरण सामने आने पर रमन की कथनी और करनी भी उजागर हो गई है ंउन्होने कहा कि आने वाले चुनाव में छत्तीसगढ़ जोगी कांग्रेस की सरकार बनेगी और जनता जान चुकी है कि रमन सरकार की कथनी और करनी में कितना फर्क है उन्होंने रमन सरकार के पहले कार्यकाल से लेकर तीनों कार्यकाल का काम काज जिक्र करते हुए कहा कि जशपुर जिले समेत आज पूरा प्रदेश विकास की बाट जोह रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री महज जुबानी जमा खर्च करने में माहिर हैं, कहे हुए पर अमल करने में नहीं, यही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की पहचान बन चुकी है। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसान अपने साथ वादा खिलाफी का बदला और अपनी बोनस की आस लेकर थक चुके किसान अब हमारे साथ आ खड़े हुए है। जोगी कांग्रेंस व्यापार विभाग के जिलाध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने कहा कि सरकार की तरफ गौसेवा के नाम पर कई सारी योजनाएं और आयोग चलती है लेकिन दुर्ग के गौशाला में जो कुछ हुआ वो बेहद शर्मनाक है उन्होने कहा कि जिस क्रूरता से धमधा में गायों की हत्या की गई, उस तरह के कृत्य करने वाले को फांसी पर लटका देना चाहिए।

जिला प्रवक्ता रेमिश तिर्की ने कहा कि भाजपा का असल चाल-चरित्र अब सामने आ चुका है वह किसान-मजदूर विरोधी तो थी ही अब गौ माता की हत्यारी भी बन चुकी है जोगी कांग्रेस द्वारा लगातार रमन सरकार को घेरा जा रहा है अब उन्हें अपनी जमीन खिसकती दिख रही है। जिला उपाध्यक्ष रमेश गुप्ता ने कहा कि रमन सरकार के बेरोजगारों को रोजगार देने मे असफल तो थी ही वहीं अब गौ हत्या के पाप से भी बच नही पाई सरकार आऊट सोर्सिंग कर स्थानीय युवाओं को बेराजगार बना रही है। रमन सरकार के खिलाप विरोध प्रदर्शन कर गौ हत्या के दोषी पर कड़ी कार्रवाही की मांग करते हुये राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपा गया। इस दौरान एम.एस. पैंकरा, हंसराज अग्रवाल, विजय कुमार शर्मा, विनोद अग्रवाल, रेमिश तिर्की, रमेश गुप्ता, भंवर पारीक, पास्क्ल पन्ना, महेश गुप्ता, पटेल टोप्पो, मुरली यादव, राजा सिंह, मोनु खान,इश्माईल खान,आशु अग्रवाल,मोंटी देवांगन,दिपक यादव,शोभित सिंह सिदार,विमलेश चैहान, सुरेश चैहान, देवलाल चैहान, आकाश पारीक, बृजमोहन कुजुर, चुड़ामणी यादव, हीरा गुप्ता, सैनाथ राम नेताम, डिलेश्वर चैहान, चन्द्रभान, श्याम, सुद्रो यादव, डीडीसी गायत्री बघेल, लक्ष्मी, उर्मिला, गोमती बाई सिदार, समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *