October 26, 2021
Breaking News

हाईपावर कमेटी को मिली मोहलत ने शिक्षाकर्मियों का मूड बिगाड़ा … सोशल मीडिया पर सवालों की बौछार…संजय शर्मा ने पूछा- क्या 5 अप्रैल को हो जायेगा संविलियन का एलान

हाईपावर कमेटी को मिली मोहलत ने शिक्षाकर्मियों का मूड बिगाड़ा … सोशल मीडिया पर सवालों की बौछार…संजय शर्मा ने पूछा- क्या 5 अप्रैल को हो जायेगा संविलियन का एलान

रायपुर 15 मार्च 18
शिक्षाकर्मियों के मुद्दे पर फैसला लेने के लिए राज्य सरकार ने कमेटी को एक महीने की और मोहलत दे दी है। हालांकि इस मोहलत पर शिक्षाकर्मियों का मूड बेहद खराब है। सरकार की इस दरियादिली पर लगातार टिप्पणी तो हो ही रही है.. शिक्षाकर्मियों की तरफ से सुझाव और सवाल भी लगातार सरकार पर दागे जा रहे हैं। इसी बीच शिक्षाकर्मी मोर्चा के प्रांतीय संचालय संजय शर्मा ने बयान जारी कर सवाल पूछा है कि .. एक्सटेंशन मिलने के बाद क्या सरकार 5 अप्रैल तक संविलियन जैसे अहम मुद्दे पर कमेटी अपना निर्णायक फैसला क्या दे देगी।

वैसे अभी तक के हालात यही हैं कि शिक्षाकर्मियों के मुद्दे खासकर संविलियन, 7वां वेतनमान और क्रमोन्नति जैसे अहम मुद्दों पर कमेटी ना तो सरकार को रिपोर्ट देगी और ना ही प्रस्ताव आगे बढ़ायेगी। जाहिर है शिक्षाकर्मियों को भी इस बात का बखूबी अहसास है कि संविलियन जैसे अहम मुद्दे पर कमेटी नहीं खुद मुख्यमंत्री ही फैसला लेंगे।

संजय शर्मा ने कहा कि कमेटी का वक्त बढ़ाने के साथ-साथ अधिकारियों को इस बात की घोषणा करनी चाहिए कि एक माह में संविलियन सहित मांगों पर सकरात्मक निर्णय लेंगे। केवल कमेटी की अवधि बढ़ाने से समस्या का निराकरण नही होगा। कमेटी 3 माह की अवधि में निर्णय लेगी यह भरोसा शिक्षाकर्मियों को था। एक माह की अवधि बढ़ाए जाने से शिक्षाकर्मियो में निराशा व आक्रोश है।

दरअसल जो कमेटी बनी है, वो शिक्षाकर्मियों की छोटी- बड़ी समस्याओं का ही हल निकाल सकेगी। हालांकि कल जब शिक्षाकर्मी एक साथ बैठेंगे, तो जाहिर है संविलियन का ही मुद्दा मजबूती से उठायेंगे,…लेकिन जो हालात बने हैं, वो साफ बयां करते हैं कि कमेटी संविलियन और अन्य बिंदुओं पर कोई बड़ा प्रस्ताव देने के लिए अधिकृत है ही नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *