July 25, 2021
Breaking News

पंचायत संवर्ग के शिक्षक पांच सितंबर को मनाएंगे क्रांति दिवस, जिले में देंगे धरना

Harit chhattisgarh jashpur. नियमित शिक्षक के समान अधिकार, सुविधा व सम्मान पाने की मांग को लेकर 5 सितंबर को शिक्षक क्रांति दिवस जिला मुख्यालय जशपुर में मनाया जाएगा। इस दौरान जिला स्तरीय धरना-प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम से 9 सूत्रीय मांगों पर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

शासकीयकरण, संविलियन सहित अन्य मांगो को लेकर शासन के वादाखिलाफी पर शिक्षक प्रदर्शन करेंगे। छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ जशपुर के जिलाध्यक्ष श्री अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि एक ही विभाग में एक ही छत के नीचे एक साथ काम करने के बाद भी 22 साल के बाद आज तक शिक्षक पंचायत संवर्ग को सही मायने में शिक्षकों का सम्मान प्राप्त नहीं हुआ। इसलिए हम शिक्षक दिवस को शिक्षक क्रांति दिवस के रूप में मनाते हुए धरना प्रदर्शन करेंगे। कई वर्षों से शैक्षिक धरातल पर समाज की नवीन पीढ़ी को शिक्षित कर वर्तमान समाज की आधारशिला रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले हम शिक्षाकर्मी, शिक्षक पंचायत/ननि आज भी आर्थिक आजादी के साथ समाज में सम्मान पाने संघर्ष कर रहे है। उन्होंने कहा 1995 से अब तक नियमित शिक्षकों को लगभग एक तिहाई से भी कम वेतन, पांचवें, छठे और सातवें वेतन देने के बजाय उसको समतुल्य और कुछ को कुछ भी नहीं नाम पर निरंतर आर्थिक शोषण किया गया है। शिक्षक पंचायत संवर्ग को क्रमोन्नति समयमान भी नहीं दिया गया। जबकि इसी विभाग में कार्यरत अन्य शिक्षकों को सेवाकाल में दो क्रमोन्नति का प्रावधान है।

समान वेतन भत्ते का आदेश महंगाई भत्ते तक ही सिमट कर रह गया-

जिला अध्यक्ष श्रीवास्तव ने कहा हद तो तब हो गई जब शासन ने शिक्षक पंचायत संवर्ग के शिक्षकों के समान वेतन एवं भत्ते के लिए आदेश जारी किया। कुछ दिन बाद केवल महंगाई भत्ते तक उसे सीमित कर दिया गया। चिकित्सा व मकान भत्ता भी नही मिला। शिक्षाकर्मियों के साथ आज यह विकट समस्या है कि वह अपने निवास स्थान पर जाने के लिए स्थानांतरण की सुविधा के लिए तरस रहे हैं। पति-पत्नी के आधार पर भी स्थानांतरण का नियम खुला पर उसमें भी कठिन शर्त रख दिए गए। आज शिक्षक पंचायत संवर्ग के आश्रित लोगों को पंचायत सचिव के पद पर अनुकंपा नियुक्ति देने संबंधी आदेश को भी राज्य सरकार वापस ले ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *