October 19, 2021
Breaking News

चोलनार स्कूल से एक शिक्षक के निरंतर अनुपस्थित रहने का मामला

बकावंड ब्लाक के अंतर्गत संकुल बोरपदर के प्राथमिक शाला नवीन चोलनार स्कूल एक शिक्षक के निरंतर अनुपस्थित रहने का मामला प्रकाश में आया है उपस्थित प्राचार्य एवं सह शिक्षक को इसके चलते बच्चों को पढ़ने और समझने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है मध्याह्न भोजन के जगह बच्चे को पोवा बनाकर बच्चों को खिलाया जा रहा है स्कूल में बच्चों की संख्या दिनों दिन कम होती जा रही है
प्राथमिक शाला नवीन चोलनार के प्राचार्य दशरथ दास ने बताया कि मेरे साथ एक और शिक्षक मुन्ना रामनाथ इस शाला में पदस्थ है मुन्ना रामनाथ 24 अक्टूबर 2017 को इस शाला में कार्यभार ग्रहण करने के बाद से बिना किसी पूर्व सूचना के हर माह कुछ दिन अनुपस्थित रहते हैं उन्होंने बताया कि मुन्नाराम आज तक कुल 39 दिन अनुपस्थित है इस शाला में बालक और बालिकाओं की दर्ज संख्या 78 है इतने बच्चों को एक साथ एक शिक्षक द्वारा पढ़ाना मुश्किल हो रहा है साथ ही उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी गर्भवती है और उनके सहयोगी शिक्षक द्वारा अनुपस्थित रहने के चलते हुए बच्चों की पढ़ाई को ध्यान में रखते हुए छुट्टी भी नहीं ले पा रहे हैं सरकार द्वारा शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही है वहीं दूसरी और चुनार प्राथमिक शाला में एक शिक्षक के भरोसे 78 विद्यार्थियों का भविष्य एक शिक्षक के लगातार अनुपस्थित होने के बावजूद भी योग द्वारा एक शिक्षक के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है और बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है परीक्षा के समय शिक्षक का बिना पूर्व सूचना अनुपस्थित रहने से बच्चों की पढ़ाई पर असर पढ़ रहा है
####
बच्चों को मध्यान्ह भोजन की जगह पोहा खिलाया जा रहा है*
####
रसोईया संघ अपनी 7 सूत्री मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चली गई है प्राथमिक शाला नवीन चोलनार स्कूल बच्चों को समूह द्वारा खिलाया जा रहा है ज्ञात हो कि स्कूल सुबह 10:00 से 4:00 बजे तक संचालित किया जाता है तथा बच्चों को सुबह से दिनभर पोहा खाकर अध्ययन करने को मजबूर हो गए

✍ AKKU KHAN

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *