October 18, 2021
Breaking News

समय सीमा खत्म होने के कगार पर,,106करोड़ की एडीबी सड़क 45प्रतिशत ही बन पाया,,,, गुणवत्ता हीन मुरूम की जगह पीली मिट्टी डालकर किया जा रहा है,,गोलमाल।

समय सीमा खत्म होने के कगार पर,,106करोड़ की एडीबी सड़क 45प्रतिशत ही बन पाया,,,,

गुणवत्ता हीन मुरूम की जगह पीली मिट्टी डालकर किया जा रहा है,,गोलमाल।

दिनाँक:–20-03-2018*

*सवांददाता:–मोहम्मद जावेद खान करगी रोड कोटा हरित छत्तीसगढ़।*

*करगीरोड कोटा:-*-एशियन डेवलपमेंट बैंक (ए.डी.बी.) द्वारा निर्माणाधीन रतनपुर से लोरमी सड़क की समय सीमा अप्रैल-2018 में खत्म होने को है,लेकिन बमुश्किल अभी तक 40 से 45% ही सड़क निर्माण का कार्य हो पाया है,कुछ शासकीय स्वीकृति का हवाला दिया भी गया तो 6 माह की समय सीमा और मिलने की उम्मीद की जा सकती है,लेकिन कोई उम्मीद नहीं की इस समय सीमा में भी निर्माण सफल हो पाएगा।

सड़क निर्माण के दौरान गुणवत्ता की पूर्ण अनदेखी की जा रही है, जहां मुरूम डालना चाहिए वहां सरेआम पीली मिट्टी डाली जा रही है,पेटी कांट्रेक्टरों को भुगतान नहीं किया जा रहा है,जिससे मजदूरों को भुगतान नहीं हो पा रहा है,मजदूर,पेटी काम छोड़ छोड़ कर बैठ रहे हैं कुछ पेटी तो भाग रहे हैं,शिकायतों के अनुसार इस कंपनी का भुगतान काफी लचर हो गया है, पैसा दबाकर काम का दबाव बनाया जा रहा है।

धूल का अंबार सड़क किनारे के संस्थान घर, एवं यात्री ,लगातार साल भर से झेल रहे हैं जिसको खबरों,अखबारों के माध्यम से अनेक बार ध्यानाकर्षण किया गया फिर भी सड़को में पानी भी नहीं डाला जा रहा था,अभी भी पानी नही डाला जा रहा है, तय दूरी पर लगभग 90 पुल-पुलिया का निर्माण होना था,एक माह बाद तय समय सीमा समाप्त हो जाएगी फिर भी मुश्किल से 45 पुल पुलिया का ही निर्माण हो पाया है, एक माह में क्या सड़क निर्माण करने वाला ठेकेदार कार्य पूरा कर पाएगा ठेकेदार का पूरा ध्यान पी.क्यू.सी.(डामर सड़क) मैं बना रहता है,क्योंकि इसके निर्माण जल्द हो जाता है,और बिल भी अन्य कार्यों की अपेक्षाकृत लंबा बनता है,वही पुल-पुलिया नाली अधिक काम में अपेक्षाकृत समय ज्यादा लगता है,बिल भी छोटा बनता है पीड़ितों द्वारा बताया गया कि 4 से 6 माह के बीच ठेकेदार का चेहरा बदलने से आर्थिक परेशानी ज्यादा आ रही है, नहीं तो शुरुआत में ठीक चल रहा था,भुगतान भी यथा समय हो रहा था अब तो ट्रांसपोर्ट वाले भी रोना रो रहे हैं,मान लिया जाए कि समय सीमा 6 माह बढ़ भी जाती है ,तो क्या बरसात में सड़क निर्माण डामर काम करना संभव हो पाएगा वही कोटा नगर की नाली के लिए अभी तक शासन द्वारा स्वीकृति प्राप्त नहीं हो पाई है,और अप्रैल 2018 में मियाद खत्म।

एडीबी प्रभारी एस एस माझी* से इस बारे में बात करने पर उन्होंने बताया की मेडिकल समस्या की वजह से है मैं 2 माह की छुट्टी पर हु,वर्तमान में बघेल जी जो कि चार्ज में है,उनसे बात करने पर उन्होंने बताया कि बीच-बीच में सड़क निरीक्षण में गए थे सड़क निर्माण की गति काफी कमजोर है ,सड़क निर्माण करने वाले ठेकेदार का कहना है की मियाद बढ़ाकर जून तक सड़क निर्माण का कार्य खत्म कर देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *