October 21, 2021
Breaking News

देश में गो हत्या पर प्रतिबन्ध लगाने के लिए पूरे देश के भ्रमण पर निकला मुस्लिम युवा का पत्थलगांव में भव्य स्वागत

देश में गो हत्या पर प्रतिबन्ध लगाने के लिए पूरे देश के भ्रमण पर निकला मुस्लिम युवा का पत्थलगांव में भव्य स्वागत


हरितछत्तीसगढ़ विवेक तिवारी पत्थलगांव। लेह से कन्याकुमारी तक गौ सेवा सद्भावना पदयात्रा में निकले मोहम्मद फैज खान का पाकर गांव में भव्य स्वागत किया गया इस दौरान पाकरगांव सरस्वती शिशु मंदिर के प्रधानाचार्य करुणा प्रसाद यादव, आचार्य मनमोहन सिंह,त्रिलोचन राम बेहरा,संजय नाग,अमरजीत,कमलेश,नेवन, सरपंच पटेल टोप्पो,हेता राम यादव,गौ सेवा मण्डल के जिलाध्यक्ष हरिशंकर जयसवाल, मिथलेश लकड़ा मौजूद थे। पदयात्रा का अगला पड़ाव पत्थलगांव में राष्ट्रीय गौ रक्षा वाहिनी के प्रदेश महामंत्री भारती शर्मा, मुरारी अग्रवाल, सुनील अग्रवाल , प्रयाग राज अग्रवाल, डॉ एलडी चेतवानी , बिंदेश्वरी शर्मा, मुकेश बंसल , जितेंद्र गुप्ता ,बबलू तिवारी ,कुंदन शर्मा ,नीरज गुप्ता भाजयुमो मंडल महामंत्री राहुल अग्रवाल समेत भारी संख्या में महिला पुरुष ने मोहम्मद फैज खान का स्वागत किया। विदित हो कि भारतीय देशी गोवंश की सेवा संरक्षण एवं संवर्धन के लिए जन जागरण अभियान चलाने हेतु लेह से कन्याकुमारी तक मोहम्मद फैज खान द्वारा पदयात्रा कल भारत परिक्रमा किया जा रहा है कुल 12000 किलोमीटर पैदल चलकर वह जन जागरण में देशी गोवंश का महत्व गौहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध हेतु केंद्रीय कानून बनाना नदी संरक्षण वृक्षारोपण स्वच्छता एवं कन्या भ्रूण हत्या व नारी की गरिमा हेतु जन जागृति विभाग अखंड भारत का निर्माण कर पुनः भारत के प्राचीन वैभव को स्थापित करने जन जागरण अभियान चला रहे हैं।आज गुरुवार की शाम सात बजे पंचायती धर्मशाला में मो फैज खान द्वारा इस सम्बध कथा वाचन करेंगे

भारत में गौ हत्या को रोकने और संपूर्ण भारत में आपसी सदभावना का विकास हो इसके लिए भारत चीन बॉर्डर पर स्थित लद्दाख के लेह से प्रसिद्ध गौ सेवक मोहम्मद फैज खान गौ सेवा सद्भावना पदयात्रा को लेकर निकले हैं ,अपनी इस यात्रा की कड़ी में गौ सेवक मोहम्मद फैज खान पत्थलगांव पहुंचे जहां पर स्थानीय निवासियों द्वारा उन्हें सम्मानित किया गया . इस यात्रा को लेकर निकले मुस्लिम युवा मोहम्मद फैज खान ने बताया कि हम यात्रा को लेकर 24 जून को लेह से निकले हैं यह यात्रा पूर्वी से भारत होकर कन्याकुमारी तक फिर पश्चिम भारत होते हुए अमृतसर तक जाएगी हम पूरे भारत की परिक्रमा के तहत 12000 किलोमीटर पदयात्रा द्वारा करेंगे जिसमें 2 वर्ष का समय लगेगा . यह यात्रा गौ सेवा सद्भावना यात्रा है हम देश में गौ सेवा का संदेश देने के लिए निकले हैं हमारा मानना है कि हम गाय की सेवा करते हैं और गाय हमारी रक्षा करती है और सद्भावना शब्द इसलिए जोड़ा गया है कि कहीं पर भी गाय के नाम पर नफरत हिंसा व दंगा ना हो, गाय और गोरक्षा समाज को तोड़ने का विषय नहीं बल्कि टूटे हुए लोगों के दिलों को जोड़ने का विषय है मैंने यह संकल्प लिया है कि जिस प्रकार धर्म के प्रचार प्रसार के लिए अनेकों महापुरुषों ने पदयात्रा की तो मैंने भी इस परंपरा में थोड़ा योगदान देने के लिए यह पद यात्रा लेकर निकला हूं . हमारी मांग है कि भारत में गौहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध लगे वेदों में गाय किसी हिंदू मुस्लिम सिख की माता नहीं बल्कि संपूर्ण मानव जाति की माता है . गाय संपूर्ण विश्व की माता है गाय का दूध सिफा और गाय का घी दवा तथा उसका मांस बीमारी है भगवान श्रीराम का जन्म भी गौ कृपा से हुआ था और सबके जीवन में गौ का बड़ा महत्व है तो इस विश्व में गौकशी क्यों हो रही है इसलिए गोकशी को रोकने के लिए भारत में अमन-चैन भाईचारे का संदेश देने के लिए आज हम यहां यात्रा को लेकर पत्थलगांव नगरी पहुंचे हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *