July 24, 2021
Breaking News

बोले बाबा रामदेव, धर्म के नाम पर पाखंड देश का दाग धर्म के नाम पर जो पाखंड करते हैं वह एक दाग की तरह है। यह बातें योग गुरु बाबा रामदेव ने कही।

 

भिलाई. धर्म अंधविश्वास, ढोंग और पांखड नहीं है। धर्म तो श्रेष्ठ आचरण, विवेकशील बुद्धि, पे्रमशील हृदय और पुरुषार्थपूर्ण होता है। धर्म के नाम पर जो पाखंड करते हैं वह एक दाग की तरह है और इस तरह के कलंक को लेकर देश आगे नहीं बढ़ सकता। यह बातें योग गुरु बाबा रामदेव ने कही।

गुरमीत राम-रहीम के मामले पर उन्होंने बगैर नाम लिए कहा कि हर देश की अपनी आंतरिक चुनौती है किसी एक व्यक्ति के गलत आचरण पर पूरे देश की छवि तय करना सही नहीं है। उन्होंने चीनी मीडिया में बाबा राम-रहीम के मामले में भारत की छवि को गलत दिखाने पर कहा कि हमारे देश में एक राम-रहीम है पर अमेरिका में तो कई ऐसे मामले हैं। वहां चीन चुप है।

किसी भी देश के नेता और मीडिया को दूसरे देश के आंतरिक मुद्दों पर हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। राजपुर गौशाला में हुई गायों की हत्या के मामले में बाबा रामदेव ने कहा कि जब तक गौमाता और गौशाला को स्वालंबन से नहीं जोड़ा जाएगा तब तक उनका नुकसान होता रहेगा। गौमाता की उपयोगिता पर ध्यान देकर उन्हें बचाया जा सकता है।
चीन को इतनी चिढ़ क्यों?
चीनी मीडिया के सवालों पर बाबा रामदेव ने कहा कि जब भारत ग्लोबलाइज होता है तो चीन को दिक्कत होती है। जब भारत के योग गुरु का सात्विक साम्राज्य बढ़ता है तो चीन को चिढ़ होती है। चीन आज भी अपनी सर्कीण और स्वार्थपूर्ण सोच के साथ जी रहा है।
भारत में धर्म के नाम पर लोगों को ठगा जा रहा है। शनि, वास्तुदोष, भूत-प्रेत और अंधविश्वास के नाम पर लोगों की भावनाओं से खेलना धर्म नहीं है। उन्होंने कहा कि धर्म आंडबर नहीं सिखाता वह तो एक विश्वास है जिसका कुछ लोग गलत फायदा उठा रहे हैं।

केवल दूध नहीं गोबर-गोमूत्र की भी उपयोगिता
बाबा रामदेव ने छत्तीसगढ़ की गोशालाओं में गौमाता की स्थिति पर कहा कि गोशाला संचालक केवल दूध देने वाली गायों पर ध्यान देेते हैं, लेकिन वे गौमाता के मूत्र और गोबर का उपयोग करना नहीं सीख पाए। पतंजलि ने इसका खूब उपयोग किया और गौमाता को कत्लखाने में जाने से बचाया। उन्होंने कहा कि केवल कानून बनाने या कत्लखाने बंद करने से गोमाता की रक्षा नहीं होगी बल्कि गोमाता के उत्पादों को स्वालंबन से जोड़कर ही उनकी सुरक्षा की जा सकती है।

ब्रह्माकुमारी सेंटर में किया ध्यान
पतंजलि उत्पाद के संबंधमें जिले भर के डीलर की बैठक से पहले उन्होंने ब्रह्मकुमारी के मेडिटेशन रूम में ध्यान भी किया।इससे पहले ब्रह्माकुमारी बहनों ने सेंटर में उनका स्वागत किया। जहां सिर पर कलश रखकर ब्रह्मुकमारी बहनों ने उनकी अगुवाई की।इस मौके पर रायपुर सेंटर की कमला दीदी, भिलाईसेंटर की आशा दीदी एवं कई लोग मौजूद थे।
खबर सूत्र patrika.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *