July 25, 2021
Breaking News

बिलासपुर का सिटी-36 मॉल अब पंजाब नेशनल बैंक के कब्ज़े में

harit chhattisgarh shankar adhija bilaspur..

बिलासपुर के सिटी थर्टी सिक्स मॉल पर पंजाब नेशनल बैंक का कब्जा हो गया। बैंक की पांच करोड़ रुपए की उधारी नहीं चुकाने के कारण हाईकोर्ट ने बैंक को कब्जे का अधिकार दिया, लेकिन साथ ही यह भी कहा कि फैसले के आने तक वो संपत्ति को सुरक्षित रखे।मामले की अगली सुनवाई 14 सितंबर को होगी। सिटी माल प्रबंधन कई नोटिस के बाद भी कर्ज नहीं चुका रहा था, इसे लेकर बैंक ने कलेक्टर कोर्ट में मामला लगाया । कलेक्टर ने बैंक को अपनी वसूली के लिए माल पर कब्जे के आदेश दिए। इसके खिलाफ माल प्रबंधन हाईकोर्ट आ गया कोर्ट ने भी बैंक के फेवर में आदेश दिया है। माल कांग्रेस के पूर्व मंत्री केके गुप्ता के परिवार का है। उनके पुत्र संजय गुप्ता इसे संचालित करते हैं। कहा जा रहा है, कर्ज की वास्तविक राशि पांच करोड़ रुपए से कहीं ज्यादा है, लेकिन पेपर्स में पांच करोड़ का ही जिक्र है। गौरतलब हो की हाईकोर्ट ने कर्ज का भुगतान नहीं करने पर पंजाब नेशनल बैंक को मुंगेली नाका चौक स्थित 36 सिटी मॉल पर कब्जा करने की अनुमति दे दी थी संचालक ने कर्ज पटाने के लिए और समय देने की मांग की थी, जिससे कोर्ट ने इनकार कर दिया है।माल के  डायरेक्टर ने मुंगेली नाका चौक स्थित 36 मॉल के निर्माण के लिए पंजाब नेशनल बैंक से 118 करोड़ रुपए कर्ज लिया है। किश्त का भुगतान नहीं करने पर बैंक ने सरफेसी एक्ट के तहत मॉल पर कब्जा करने कलेक्टर को आवेदन दिया। कलेक्टर ने जून में तहसीलदार को कर्ज राशि व किश्त का भुगतान नहीं होने पर 36 मॉल का कब्जा बैंक को दिलाने का निर्देश दिया। इस आदेश के खिलाफ मॉल के संचालकों ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की। जुलाई में हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता को 6 सप्ताह के अंदर 6 करोड़ रुपए का भुगतान करने का आदेश दिया। यह अवधि पूरी होने के बाद भी 6 करोड़ जमा नहीं करने पर बैंक ने तहसीलदार को पुनः आवेदन प्रस्तुत कर कब्जा दिलाने की मांग की। इस पर तहसीलदार ने कर्जदार को नोटिस जारी कर 1 सप्ताह का समय दिया। इसके खिलाफ संचालक ने हाईकोर्ट में आवेदन प्रस्तुत कर किश्त जमा करने और समय देने की मांग की। इस पर जस्टिस संजय के. अग्रवाल के कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने किश्त भुगतान करने समय देने से इनकार करते हुए बैंक को 36 सिटी मॉल पर कब्जे की अनुमति दी थी/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *