October 18, 2021
Breaking News

शिक्षाकर्मियों ने अब चलाया यह अभियान-क्या आपके घर कोई शिक्षाकर्मी है???

शिक्षाकर्मियों ने अब चलाया यह अभियान
संविलियन की मांगों लेकर सरकार के द्वारा गठित कमेटियों से भी कोई राहत नही मिलने पर अब एक अभियान छेड़ते हुवे शिक्षाकर्मियों के सगे साथियो को जोड़ने का प्रयास कर रहे है देखे यह है वह अभियान जो इन दिनों सोशल मीडिया पर छाया हुआ है
क्या आपके घर कोई शिक्षाकर्मी है*???

*अगर इसका जवाब न में भी है तो भी आपसे जुड़े मित्रों सगे सबंधी में जरूर होंगे।*

*दो दशकों से शिक्षा व्यवस्था के भार को उठाते ये शिक्षकों की प्रतिपूर्ति करते हुए अब इनकी रीढ़ की हड्डियां भी झुकने लगी हैं* *। ऐसा कोई भी महीना नही जहाँ इन्हें समय पर वेतन नहीं मिला।हम परिवार वालों को* *कितनी तकलीफ होती है जब समय पर इन्हें वेतन नहीं मिलता* *जरूरतें कभी समय पर पूरी नहीं होती बाकी सुविधाओ की बात ही छोड़ दीजिये*
*ऐसा कोई साल नहीं रहा जब शिक्षाकर्मियों ने आंदोलन नहीं किया। समाज के विद्रोही कर्मचारियों में इनका नाम दर्ज है*।
*राजनीतिक दलों ने खुलकर इनके भावनाओ से खेला है। हर बार चुनावों में ये संकल्प पत्रों और घोषणा पत्र में छपवाते की हम इस समस्या का अंत कर देंगे।*

पिछले कई सालों से हमारे परिवारों के ये लोग इस त्रासदी को झेल रहे हैं। इन्हें हमेशा से कुचल दिया गया। आज सरकार की चुप्पी और इनके आंदोलन की क्षति गति जिस प्रकार की गई है। स्प्ष्ट सन्देश है कि चुपचाप इस काम को करते रहो ।समाज मे सबसे गन्दी सोच इनके लिए निर्मित की जा रही है।

*हड़ताल नामक इनका एकमात्र हथियार अब काम का नहीं रहा और इसके आगे की लड़ाई अब ये लड़ भी नहीं सकते।*
*इसके बाद कि जवाबदारी अब हमारी है कि अब इनके साथ कैसे और किस तरह खड़े* *होंगे।मैं अब अपने परिजन शिक्षाकर्मियों की लड़ाई आने वाले चुनाव तक ले जाने के लिए तैयार हूँ* !
हर विधान सभा मे *शिक्षाकर्मी फैमिली वेल फेयर कमेटी* का निर्माण किया जाएगा और अधिक से अधिक मात्रा में उन्हें जोड़ कर उस व्यक्ति को चुनावों में सीधे सीधे दबाव बनाया जाएगा । हम कौन से उनके कर्मचारी हैं या हम पर कहाँ इनका नियंत्रण है अब तो खुलेआम चैलेंज की या तो सरकार रहेगी या फिर शिक्षाकर्मी और उनके परिवार कभी विरोध नहीं करेगी।

जो शिक्षाकर्मियों के और उनके परिवारों के कल्याण की बात करेगा छत्तीसगढ में वही राज करेगा।

इन विद्वान माटी पुत्रो का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

👇🏾👇🏾👇🏾👇🏾👇🏾👇🏾👇🏾👇🏾👇🏾
,❣💔. *सरकार ने 22 कमेटियां इनके लिए बनाई हैं । समस्या जस की तस लेकिन इस शिक्षाकर्मी वेलफ़ेयर कमेटी का रिजल्ट जल्दी आएगा।*

🌹🚩 *इसमें अपने परिवार के नाम जोड़कर आगे बढ़ाएं*

1. श्री आर के दुबे
सेवा निवृत्त (SBI)
शिक्षाकंर्मी परिजन
सूंदर नगर रायपुर

2. रमाकांत अवस्थी
सेवानिवृत शिक्षक
शिक्षाकंर्मी परिजन
पैरी बालोद

3. मुकेश कुमार सिन्हा
शिक्षाकर्मी परिजन
डौन्डी लोहारा

4. श्री राम मोहन त्रिवेदी
सेवानिवृत प्राचार्य
शिक्षक परिजन
भाटापारा

5. श्री प्रकाश चंद दुबे
कृषक
शिक्षाकर्मी परिजन
बेमेतरा

6.

1 thought on “शिक्षाकर्मियों ने अब चलाया यह अभियान-क्या आपके घर कोई शिक्षाकर्मी है???

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *