October 19, 2021
Breaking News

बलात्कारियों के खिलाफ फांसी की सजा की मांग, के साथ कठोर कानून बनाने युवाओं ने निकाली रैली।

बलात्कारियों के खिलाफ फांसी की सजा की मांग, के साथ कठोर कानून बनाने युवाओं ने निकाली रैली।

*जय स्तंभ चौक से मेन रोड होते हुए तहसील कार्यालय तक निकाली रैली,युवा, टीचर पेरेंट्स ,महिलाओं ,बच्चे तक शामिल हुए रैली में।*

*देश के महामहिम राष्ट्रपति देश के मुख्य न्यायाधीश सर्वोच्च न्यायालय, देश के प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन।*

*दिनाँक:–17-04-2018*


*संवाददाता:– मोहम्मद जावेद खान करगी रोड कोटा हरित छत्तीसगढ़।*

*करगी रोड कोटा*:–कश्मीर से लेकर उन्नाव तक ,उन्नाव से लेकर सूरत तक, सूरत से लेकर पूरे देश प्रदेशों ,में जिलों, में कस्बों में बलात्कार जैसे अपराध एक आम बात हो गई है,कमजोर कानून की वजह से अपराधिक तत्व बलात्कारी बच निकल जाते हैं। और जो पीड़िता होती है ,उसको न्याय मिलते तक उसकी मौत हो जाती है ,कश्मीर से 8 साल की आसिफा के साथ गैंगरेप, सूरत में 11 साल की बच्ची के साथ हैवानियत,उन्नाव में सत्ताधारी दल के विधायक द्वारा बलात्कार करने के बाद उसके पिता की हत्या उसके अलावा पूरे देश में कहीं ना कहीं इस तरह की घटना होती जा रही है,2012 की निर्भया कांड होने के बाद पूरा देश सड़क पर आ गया था, बलात्कार पर कठोर कानून बनाने की बात कही गई थी लोगों ने आंदोलन किया था पर उसके बाद वर्तमान में भी इस तरह के घिनौने-अपराध इस तरह के कृत्य अभी भी हो रहे हैं, अपराधियों में कानून का कोई खौफ नहीं दिखता देश के संविधानिक पद पर बैठे लोग भी बलात्कार कैसे घिनौने कृत्य पर कोई कानून नहीं बना रहे हैं, जिसके वजह से पूरे देश में बेटियों में बच्चों में महिलाओं में असुरक्षा का भावना जागृत हुई है।

कश्मीर और उन्नाव की घटना के बाद पूरे देश में एक बार फिर से बलात्कारियों पर कठोर कानून की बात को लेकर फिर से एक बार आंदोलन रैली, धरना, कैंडल मार्च, फिर से पूरे देश में एक आग की तरह फैल गई है,सामाजिक संगठन, राजनीतिक दलों ,टीचर पैरेंट्स,द्वारा बलात्कारियों के खिलाफ कड़ा कानून बनाने की बात पर आंदोलन कर रहे हैं।

इसी कड़ी में कोटा नगर के युवाओं द्वारा ,जिसमें कि स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के पेरेंट्स, स्कूल के बच्चे, महिला संगठन के महिला के साथ में एक दिवसीय विरोध प्रदर्शन रैली के रूप में जयस्तंभ नाका चौक से लेकर मेन रोड होते हुए तहसील कार्यालय में अनुभागीय अधिकारी राजस्व कोटा को मासूम बच्चों के साथ और महिलाओं के साथ होने वाले इस तरह के घृणित, अपराध, बलात्कार करने वाले बलात्कारी अपराधियों के खिलाफ कड़े से कड़े कानून बनाने की मांग, जिसमें की फांसी की सजा की मांग के, साथ फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने की मांग, जिसमें कि 3 से 6 महीने के भीतर बलात्कारी अपराधियों को फांसी की सजा मिल सके इसी कड़े कानून को लेकर देश के महामहिम राष्ट्रपति, देश के सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश, देश के प्रधानमंत्री, प्रदेश के राज्यपाल, छत्तीसगढ़ शासन के मुख्यमंत्री के नाम, अनुभागीय अधिकारी राजस्व के अनुपस्थिति में दंडाधिकारी तहसीलदार श्रीमती हेमलता डहरिया को ज्ञापन सौंपा गया, जिसमें कोटा नगर के युवा वर्ग, सामाजिक संगठन, राजनीतिक दल, के जनप्रतिनिधि, स्कूलों के टीचर, स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे व उनके माता-पिता, के साथ महिला मोर्चा, के महिलाओं द्वारा तहसीलदार कोटा को ज्ञापन सौंपा गया और उनसे मांग की गई कि ,जल्द से जल्द बलात्कारियों के खिलाफ शासन भारत सरकार को बलात्कारियों के खिलाफ कठोर कानून बनाने की मांग प्रेषित करें।

जय स्तंभ चौक मैं रैली निकलने से पहले अपेक्स स्कूल के प्राचार्य अमित सोनी ,पूर्व पार्षद देवेंद्र कश्यप कमलु ,महिला मंडल की गायत्री साहू ,युवा पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता मोहम्मद जावेद खान ने ,संबोधित किया ज्ञापन सौंपने रैली में विशेष गुप्ता, पप्पू ठाकुर ,विकास तिवारी, संजय बंजारे, चुन्नी साहू, पार्षद अनिल मसीह, गोलू मसीह, शहजाद अली, नंदू यादव ,हरीश चौबे, रितेश गुप्ता, मनीष गुप्ता, दिलबाग सिंह शशांक सोनी स्वाति ,मुस्कान, अंकित मोहम्मद फैजान खान, सुश्री जारा खान, सहित ,लगभग 40 से 50 युवा साथी शामिल हुए जिन्होंने बलात्कार करने वाले बलात्कारियों के खिलाफ कड़े शब्दों में निंदा के साथ बलात्कारियों को फांसी दो कठोर कानून बनाने के जोशीले नारों के साथ कड़े कानून की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *