Sharing is caring!

अयोध्या: FIR नहीं लिखने के कारण राम जन्मभूमि पुलिस स्टेशन में साधु ने खुद को लगाई आग, हुई मौत

अयोध्या: FIR नहीं लिखने के कारण राम जन्मभूमि पुलिस स्टेशन में साधु ने खुद को लगाई आग, हुई मौत

अयोध्या: अपने सामानों की चोरी के मामले की छानबीन में पुलिस की कथित निष्क्रियता का विरोध कर रहे एक साधु ने एक पुलिस थाने में आत्मदाह कर लिया, जिससे उनकी मौत हो गई. इस घटना के बाद इस मामले में एक एसएचओ सहित तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया. पुलिस ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

मध्य प्रदेश के भोपाल के रहने वाले राम दास त्यागी रविवार को हनुमानगढ़ी मंदिर गए थे और वहां किसी ने उनका बैग छीन लिया जिसमें करीब 4,000 रुपए थे. त्यागी ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज नहीं की. उन्होंने राम जन्मभूमि पुलिस थाना परिसर में मंगलवार को आत्मदाह करने की कोशिश की.

पुलिस ने बताया कि आत्मदाह की कोशिश में वह 70 फीसदी झुलस गए थे और उन्हें लखनऊ ट्रामा सेंटर भेजा गया जहां गुरुवार सुबह उनकी मौत हो गई. फैजाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुभाष सिंह बघेल ने बताया , ‘‘मैंने एसएचओ सहित तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है और साधु का केस दर्ज करने के आदेश दिया है.’’

बघेल ने कहा कि शव को पोस्टमॉर्टम के बाद भोपाल भेज दिया गया है. विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने इस मामले में पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है.विहिप के प्रवक्ता शरद शर्मा ने कहा , ‘‘साधु को ऐसा कदम उठाने के लिए विवश किया गया, क्योंकि पुलिस उनकी शिकायत दर्ज नहीं कर रही थी. इसके लिए जिम्मेदार पुलिसकर्मियों को कड़ी सजा दी जानी चाहिए.’’

Sharing is caring!