October 26, 2021
Breaking News

स्वच्छाग्रहियो ने संयुक्त रूप से जिला सीओ को सौपा ज्ञापन ,जिला सलाहकार पर लगे छेड़छाड़ के आरोप को बताया झूठा व बेबुनियाद

स्वच्छाग्रहियो ने संयुक्त रूप से जिला सीओ को सौपा ज्ञापन ,जिला सलाहकार पर लगे छेड़छाड़ के आरोप को बताया झूठा व बेबुनियाद

राजा खान/सूरजपुर-बिहार के चंपारण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में 10 अप्रैल को आयोजित सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह समारोह में सूरजपुर जिले की शामिल 9 महिला स्वच्छाग्रहियों में से 3 लोगों ने जिला सलाहकार पर तस्वीर खीचने, छेड़छाड़ करने और फोन पर परेशान करने का बेबुनियाद आरोप लगाया है। बताया गया है कि स्वच्छाग्रहियों ने दबाव में आकर जिला सलाहकार पर जान से मारने व छत से फेंक देने की शिकायत दर्ज कराई है।उल्लेखनीय है कि विगत 1 अप्रैल से 10 अप्रैल तक बिहार के औरंगाबाद जिले के ओबरा प्रखंड में सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह समारोह का आयोजन किया गया था। जिसमें स्वच्छता के प्रचार-प्रसार और प्रशिक्षण के लिए सूरजपुर जिले की 9 महिला व पुरुष सहकर्मी रवाना हुए थे। इस दौरान सूरजपुर विकासखंड की 3 महिला स्वच्छाग्रही ओबरा प्रखंड में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद चंपारण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में आयोजित सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह समारोह में शामिल होने गई थी। इसी दौरान उक्त मामले को अंजाम दिया जाना बताया जा रहा है।*वहीं स्वच्छ भारत मिशन के जिला सलाहकार राहुल मेश्राम ने जिला पंचायत सीईओ संजीव झा को पूरे मामले में अपना पक्ष रखते हुए बताया है कि रोजगार सहायक संघ के जिलाध्यक्ष लक्ष्मण मराबी की पत्नी संगीता तथा सोनम व फूलमती के द्वारा विशेष सुविधा मुहैया कराने की मांग की जा रही थी जिसको मेरे द्वारा मना करने पर उनके द्वारा साजिशपूर्वक बेबुनियाद आरोप लगाया जा रहा है। वहीं कार्यक्रम में शामिल स्वच्छाग्रहियों में उदय कुमार, मुकेश कुमार साहू, जफर हुसैन, संजय कुमार राजवाड़े, महेश राम, संतोष कुमार साहू, अम्बिकेश्वर सिरदार, चंदन सिंह, मनोज कुमार, सुभक राम, अजय कुमार साहू, अजय कुमार करसार, गोरेलाल कुशवाहा, अनिल यादव, प्रवीण गुप्ता, श्रवण कुमार गुप्ता व दीपक कुमार गुप्ता सहित अन्य महिला स्वच्छाग्रहियों ने जिला पंचायत सीईओ को संयुक्त रूप से ज्ञापन सौंप शिकायत को झूठा व बेबुनियाद बताया है और कहा है कि हम सभी एक साथ रहते थे और हमारे बीच में किसी प्रकार का छेड़छाड़ व भेदभाव नहीं किया गया।

*गोली मारने की झूठी शिकायत*
पीडित महिला स्वच्छाग्रहियों ने शिकायत में बताया है कि जब वह देर रात शौचालय जाने के लिए निकली तो आरोपी ने उसके साथ छेड़छाड़ की और उसने जब हो हल्ला मचाया तो मौके पर अन्य महिलाएं भी पहुंच गईं। इस दौरान जिला सलाहकार ने स्वच्छाग्रहियों से कहा कि यदि किसी को भी बताया तो गोली मारकर छत से फेंक देंगे। जबकि मौके पर उपस्थित अन्य स्वच्छाग्रहियों ने इससे इंकार किया है और सारे आरोपों को बेबुनियाद बताया है।

*जांच के लिए टीम का हुआ गठन*
इस संबंध में जनपद पंचायत सीईओ वेद प्रकाश पांडेय ने बताया कि पीडित महिलाओं द्वारा इस संबंध में शिकायत की गई है जो काफी गंभीर है। उन्होंने कहा कि जिस कार्यक्रम में महिला स्वच्छाग्रही गई थी वह कार्यक्रम स्वच्छ भारत मिशन का कार्यक्रम था। इसलिए जिला पंचायत सीईओ संजीव कुमार झा के समक्ष पूरा प्रकरण प्रस्तुत किया गया है। विभागीय स्तर पर महिलाओं की शिकायत पर टीम का गठन कर जांच के आदेश दिए गए हैं।

*बयान से मुकरे शिकायतकर्ता*
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शिकायत करने वाली स्वच्छाग्रहियों में से दो लोगों ने फोन पर जिला सलाहकार से माफी भी मांगा है और कहा है कि जबरदस्ती व दबावपूर्वक झूठा शिकायत दर्ज कराया गया है। उन्होंने कहा है कि हमारे और किसी और के साथ ऐसी कोई घटना नहीं हुई है। वहीं गोली मारने की बात को भी झूठा करार दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *