September 17, 2021
Breaking News

जगदलपुर बेटियो ने निभाया बेटे का फर्ज

हरित छत्तीसगढ़ जगदलपुर

जगदलपुर में बेटियों ने साहस दिखाते हुए अनुकरणीय पहल की है। बेटियो ने पिता को मुखाग्नि देकर बेटे का फर्ज निभाया है।
दरअसल, ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसी बातें होती हैं कि बेटा कुल का दीपक होता है, बेटे के बिना माता-पिता को मुखाग्नि कौन देगा? लेकिन अब यह बातें अब बीते जमाने की हो गई, यह साबित किया है जनसंपर्क विभाग के फोटो ग्राफर सुनील महानंदी की बेटियो ने। शुक्रवार को ऐसी ही पुरानी कुरीति एक बार फिर टूटी।सुनील महानदी की दोनों बेटिया आलिशा और एंजल ने पिता को न सिर्फ मुखाग्नि दी बल्कि अंतिम संस्कार की हर वह रस्म निभाई, जिनकी कल्पना कभी एक पुत्र से की जाती थी। विदित हो कि जनसंपर्क विभाग के फोटो ग्राफर सुनील महानंदी पंचत्व में विलीन हो गये थे उसके बाद उनकी दोनो बेटियां अलीशा और ऐंजल ने बेटी होने का फर्ज निभाते हुये अपने पिता को मुखाग्नि दी- दोनों बेटियों को सुनील बेटों की तरह परवरिश कर रहे थे,छतीसगढ़ सरकार से अब स्थानीय पत्रकारों की यही अपील है कि जल्द से जल्द सुनील की पत्नी को अनुकम्पा नियुक्ति के तहत सरकारी नौकरी दे ताकि सुनील की बेटियों का भविष्य उज्वल हो सके। गौरतलब हो कि जनसंपर्क विभाग के फोटो ग्राफर सुनील महानंदी ने बीते दिनों फांसी लगाकर की आत्महत्या, कर ली थी उनका हाल ही में रायगढ़ से रायपुर तबादला हुआ था घटना वाले दिन ही वो ज्वाइनिंग कर जगदलपुर लौटे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *