Sharing is caring!

नगर में नशीले पदार्थो और सट्टा मटका जैसे सट्टे का लाखों का अवैध कारोबार जोरों पर, प्रशासन मौन

हरितछत्तीसगढ़ सजंय तिवारी पत्थलगांव। पत्थलगांव में काफी लंबे समय से जुआ, सट्टा व नशे का अवैध कारोबार जमकर फलफूल रहा है। इन अवैध कारोबारियों ने अपने पैर भी शहर में पूरी तरह से पसार लिए है। इसके चलते युवा पीढी इस दलदल में धसती जा रही है,लेकिन संबंधित विभाग या फिर पुलिस प्रशासन इस संबध में अभी तक कोई बड़ी कार्यवाही करता नजर नहीं आ रहा है।

वहीं शहर सहित आसपास के कस्बों तथा होटलों की आड में भी जुआ, सट्टा मटका तथा नशीले पदार्थो का खेल बैखोफ चल रहा है और नशे के सौदागर कस्बे में अपनी जडे जमा चुके हैं।
कुछ दिन पहले ही पुलिस ने गांव गांव जाकर गांजा की तस्करी करने वाले एक व्यक्ति को पकड़ा भी था।

नगर में सट्टा मटका भी चल रहा जोरो से

पत्थलगांव में पालीडीही से लेकर बस स्टैण्ड,अम्बिकापुर रोड या फिर रायगढ़ रोड के आस पास ही करीब 5 बुकियों ने सट्टा मटका जैसे जुवा के गुप्त कार्यालय खोल लिए हैं। शहर के भीडभाड वाले और प्रमुख इलाकों में इन कार्यालयों में सोमवार से शनिवार को सवेरे दस से रात को ग्यारह बजे तक और रविवार को दोपहर बारह बजे तक पर्चियां काटने का काम जारी है।
जब हमने मटका कार्यालयों पर इनकी गतिविधियों को अवलोकन किया तो यहां से पुलिस और जुआ खेलने व खिलाने वालों के संबंध में चौकाने वाली जानकारियां सामने आई।जो हम अभी सार्वजनिक नहीं कर सकते।
अब देखना ये होगा कि पुलिस के नाक के नीचे हो रहे रोज लाखो,करोड़ो के सट्टा मटका जैसे घातक जुवा तक पुलिस कब पहुच पाती है।और कब नवयुवकों के भविष्य से खेलने वाले सलाखों के पीछे होंगे।

Sharing is caring!