November 30, 2021
Breaking News

सरकार आई हरकत में, CBSE स्कूलों से मांगी रिपोर्ट

गुरुग्राम के निजी स्कूल में मासूम छात्र की नृशंस हत्या के बाद केंद्र और राज्य सरकारें हरकत में आ गई हैं।

चंडीगढ़ में गुरुग्राम के निजी स्कूल में मासूम छात्र की नृशंस हत्या के बाद केंद्र और राज्य सरकारें हरकत में आ गई हैं। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सीबीएसई से निजी स्कूलों में इंतजामों की रिपोर्ट तलब कर ली है।दिल्ली में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उचित जांच और कार्रवाई का भरोसा दिलाया।
उन्होंने सीबीएसई को निर्देश दिया है कि सभी स्कूलों में बच्चों के सुरक्षा इंतजामों की जांच करा कर रिपोर्ट मंत्रालय को सौंपे। इसके अलावा स्कूल प्रबंधन व अभिभावकों को बच्चों के प्रति सावधानी बरतने की एडवाइजरी जारी की गई है।
उधर, मामले पर चिंता जताते हुए स्कूल एसोसिएशन के प्रधान यशपाल यादव ने कहा कि दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। अगर मामले में प्रबंधन की खामी मिलती है तो स्कूल मालिक के खिलाफ एफआइआर की जा सकती है। आरोपी कंडक्टर किस तरह स्कूल के अंदर चला गया, यह जांच का विषय है।
जांच हाईकोर्ट से कराने की मांग
आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने स्कूल में बच्चे की हत्या मामले की जांच हाईकोर्ट से कराने की मांग की है।
साथ ही सभी स्कूलों को बच्चों की सुरक्षा के लिए गाइडलाइन जारी करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि रेयान स्कूल के प्रबंधन पर केस दर्ज कर पीडि़त परिवार को एक करोड़ रुपये का मुआवजा दिया जाए।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पुलिस जांच में अगर तथ्य सामने नहीं आते हैं तो सरकार सीबीआइ से जांच कराने में पीछे नहीं हटेगी। शिक्षा मंत्री ने राज्य के निजी स्कूलों को बच्चों की सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और पीडि़त परिवार को हर संभव मदद दी जाएगी। स्कूल की कमियों पर प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है जिसके बाद दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा रविवार को खुद रेयान इंटरनेशनल स्कूल का दौरा कर उस जगह का जायजा लेंगे जहां बस कंडक्टर ने सात वर्षीय छात्र को बेरहमी से मार डाला। वह पीडि़त परिवार से भी मुलाकात करेंगे। इस स्कूल की मान्यता रद करने की तैयारी शुरू हो गई है।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि निजी स्कूलों में लगातार इस तरह की घटनाएं बढ़ रही हैं जो चिंताजनक है। ऐसे स्कूलों पर शिकंजा कसा जाएगा।
इस मसले पर वह गुरुग्राम के मंडलायुक्त, उपायुक्त, जिला शिक्षा अधिकारी तथा जांच में लगे पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।
उन्होंने कहा कि स्कूल प्रबंधन को चाहिए कि वे ड्राइवर व कंडक्टर का व्यवहार देखें। जिस वाहन में बच्चा आता-जाता है, उसकी सुरक्षा का प्रबंध पुख्ता होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *