Sharing is caring!

प्रशासनिक कार्रवाही के कुछ माह बाद फिर से लगने लगे शेड

Image result for अतिक्रमण haritchhattisgarhहरित छत्तीसगढ़ विवेक तिवारी पत्थलगांव। पत्थलगांव के मुख्य तीनों मार्गों में कुछ माह पूर्व ही अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई कर व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के स्थाई शेड निकलवाने की कार्रवाई की गई थी। कहीं-कहीं सड़क पर कई-कई फीट तक आगे निकली सीढ़ियों को हटाया गया था। दुकानों पर लगे बोर्ड हटाए गए थे। लेकिन कार्रवाई के कुछ माह बाद ही यहां व्यवसायी फिर से शेड लगाने में जुट गये हैं।
विदित हो कि एक ओर जहां बदहाल ट्रैफिक व्यवस्था को देखते हुये स्थानीय प्रषासन ने सभी दुकानो के शेड उतरवा व्यवसायियों से इसका सहयोग करने की अपील की थी। और कार्रवाही के बाद प्रषासन के द्वारा सड़क पर चिन्हांकित कर यह भी कहा गया था कि यदि इस एरिया के बाहर यदि कोई अपना सामान निकालता है तो कानूनी कार्रवाही की जायेगी। परन्तु प्रषासन न तो कोई कार्रवाही की और न ही कोई जब्ती बनाई। पर वहीं इस कार्रवाही के कुछ महिने बीतने के बाद ही व्यवसायी अपने अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के सामने फिर से शेड लगाकर प्रषासन को ठेंगा दिखाने का काम कर रहे हैं।
नहीं हो रहा भ्रमण, फिर से बढ़ रहा अतिक्रमण
स्थानीय व्यवसायियों ने फिर एक बार सड़क पर अपना ताम-झाम फैलाना शुरू कर दिया। जाम की समस्या फिर गंभीर बनती जा रही है, टीना की चादर के शेड सजने लगे हैं, जिस पर कुछ माह पहले प्रशासन का बुल्डोजर चला था या फिर कुछ दुकानदारों ने खुद हटा लिये थे। इस प्रषासनिक कार्रवाही की शहर के सभी संगठनों के पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं एवं स्थानीय नागरिकों ने प्रशासनिक पदाधिकारियों के पहल की सराहना की थी। और कहा था कि सुगम यातायात के लिए जिस तरह से अभियान चल रहा है वह सराहनीय है। कई नागरिकों का कहना यह है कि इस प्रकार की कार्रवाही लगातार चलेगी तो बेहतर होगा। हर व्यापारी को चाहिए कि इसमें सहयोग करे। जाम से किसी एक का नहीं बल्कि हर किसी का नुकसान होता है। वहीं नगर में आवारा पशुओं के लिए भी प्रषासन को ध्यान देते हुये कांजी हाउस ले जाने की कार्रवाही करने की जरुरत है जिससे कई दुर्घटनाएं रूकेंगी और गौ वंष की रक्षा भी हो सकेगी।

Sharing is caring!