Sharing is caring!

बहराइच.यूपी के बहराइच जिले में एक मासूम की कार में लॉक होने से दम घुटने से मौत हो गई। मां-बाप समझते रहे कि वो खेल रहा है, जबकि कड़ी धूप में खड़ी कार के अंदर दो घंटे तक वो तड़पता रहा। बच्चे की मौत से मां का रो-रोकर बुरा हाल है। मामला रामगांव इलाके का है।- जानकारी के मुताबिक, यहां रहने वाले एक दंपती का 4 साल का बेटा घर के बाहर खेल रहा था।इसी दौरान वह बाहर खड़ी एक कार में जा बैठा। जिसके तुरंत बाद कार का दरवाजा लॉक हो गया। घरवालों ने देखा कि बच्चा कार में है।कड़ी धूप में खड़ी कार के अंदर बच्चे का दम घुटने लगा। उसने दरवाजा पीटकर इशारा भी दिया। लेकिन पेरेंट्स को लगा कि वो खेल रहा है और उस ओर ध्यान नहीं दिया।

बेसुध पड़ मिला बेटा
– रिपोर्ट के मुताबिक, लगभग दो घंटे बाद जब बच्चे का पिता कहीं बाहर जाने के लिए निकला, तो कार का दरवाजा खोलने पर बेटा पसीने से लथपथ पड़ा मिला।
– ये देखते ही परिजन फौरन उसे अस्पताल ले गए। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। डॉक्टरों ने बच्चे को डेड डिक्लेयर कर दिया।
– जिला अस्पताल के डॉक्टर रामेंद्र त्रिपाठी ने बताया अस्पताल लाने से पहले ही बच्चे की मौत हो गई थी। कार में लॉक होने की वजह से उसका दम घुट गया और मौत हो गई।

सूरत में भी हो चुका है ऐसा मामला

– इससे पहले सूरत में 14 मई को अनलॉक कार में दो मासूमों की दम घुटने से मौत हो गई थी। मामला डिंडोली इलाके के मानसी रेजिडेंस का था। दोनों बच्चे नमकीन लेने के निकले थे, लेकिन अपार्टमेंट के बाहर खड़ी अनलॉक कार में खेलते-खेलते जा बैठे। जिसके तुरंत बाद कार लॉक हो गई। लगभग छह घंटे 36 डिग्री तपती गर्मी के बीच कार में बंद रहने के दौरान दम घुटने से मासूमों की मौत हो गई।

Sharing is caring!