Sharing is caring!

ओडीएफ का काला सच: फर्जी आंकड़े दिखा सरपंच को करा दिया सम्‍मानित

harit chhattisgarh sanjay tiwari pathalgaon 
पत्थलगांव छातासरई। चाहे सरकार किसी की भी हो, लेकिन अधिकारियों की कार्यशैली वही रहती है इसलिए सरकारी योजनाओं में भ्रष्‍टाचार कोई भी सरकार रोक नहीं पाती। छत्तीसगढ़ के जनपदपंचायत पत्थलगांव में इस बार भ्रष्टाचार का ये खेल शौचलय निर्माण में देखने को मिला है।
इसमें अधिकारियों ने ऐसे गांव को ओडीएफ घोषित कर दिया जिसमें अभी शौचालय बनना बाकी है। इतना ही नहीं गांव के सरपंच को सम्मानित भी करवा दिया। साशन को गुमराह कर सरपंच को पुरस्कृत कराने के मामले का खुलासा एक शिकायतकर्ता ने किया है। पीएम मोदी और सी0एम0रमन सिंह की शीर्ष प्राथमिकताओं वाली योजना स्वच्छ भारत अभियान की मंशा पर पलीता लगाते जिम्मेदार अधिकारियों ने अपने चहेते ग्राम पंचायत सरपंच को पुरस्कृत कराने का जो खेल खेला उसकी पोल गांव के ही एक शिकायतकर्ता ने खोला है। मामला पत्थलगांव ब्‍लॉक क्षेत्र के छातासरई ग्राम पंचायत का है। यहां ओडीएफ के नाम पर जमकर धांधली की गई है।
फर्जी आंकड़ों का खेल
गांव में अभी भी लोगों को शौचालय का लाभ न मिलने से भले ही खुले में शौच के लिए जाना पड़ रहा हो, पर अधिकारियों की कृपा से गांव खुले में शौचमुक्त ( ओडीएफ) घोषित हो गया और लगे हाथ अधिकारियों ने सरपंच को पुरस्कृत कराते हुए मेडल और प्रशस्ति पत्र भी दिला डाला। बात यहीं खत्म नही होती है, ओडीएफ के नाम पर इस गांव में उन लोगों के नाम भी शौचालय कागजों में पास करा दिए गए हैं, जिनके शौचालय पहले से ही बने हैं।
शौचालय निर्माण के लिए नहीं दी पूरी धनराशि
वहीं ग्रामीणों का आरोप है कि उन्हें शौचालय निर्माण के लिए पूरी धनराशि भी नहीं मिली। ग्रामीणों का कहना है कि अधिकारियों और सरपंच,सचिव ने मिलकर बगैर सभी घरों में शौचालय बने ही खेल करके गांव को ओडीएफ घोषित करा डाला। जबकि अभी भी 20 प्रतिशत ग्रामीणों के यहां शौचालय बना ही नही है और उनके घर परिवार के लोग आज भी खुले में ही शौच जा रहे हैं।वहीं शिकायत कर्ता खिरोधर यादव कमल लकड़ा,एवं पूर्व सरपंच ओस्कार लकड़ा ने बताया कि क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों  सहित कई ग्रामीण जैसे जियत राम,शुसिल,इंजनसाय लकड़ा,बालक राम,पीयूष,जुएल,सहित बिजापारा के 50 शौचालय के कार्य अभी तक पूरे नहीं हुवे हैं तो गांव को कैसे odf घोसित कर दिया गया।वहीं ग्रामीण खिरोधर यादव ने बताया कि स्वक्ष भारत अभियान में हो रहे धांधली को लेकर हमारे द्वारा पत्थलगांव sdm महोदय को दिनांक 7 जून को सीकायत किया गया है और जांच कर दोषियों पर कार्यवाही की मांग की गई है

Sharing is caring!