September 17, 2021
Breaking News

छग: नक्सलियों वारदात के बाद आमदाई पहाड़ी में निर्माण पर मजदूरों पर ब्रेक निर्माण शुरू करने में कोई कंपनी नही दिखा रही रूचि 70 ,80 मजदूरों का छीन गया रोजगार

हरित छत्तीसगढ़ नारायणपुर :– छोटेडोंगर आमदाई पहाड़ी में 9 दिनों पहले नक्सलियों ने पोकलेन में आगजनी की घटना के बाद यहाँ दहशत का माहौल बना हुआ है स्थिति यह है कि अब इस इलाके में कोई भी कम्पनि काम करने को तैयार नही है इस इलाके का सड़क निर्माण पर रोक लगा गया है जिससे स्थानीय ग्रामीणों एवं युवाओ को रोजगार का जरिया भी छीन गया है । एक सप्ताह पहले छोटेडोंगर के आमदाई पहाड़ में सड़क निर्माण का कार्य चल रही थी इसी दौरान नक्सलियों ने दो पोकलेन को आगजनी की घटना को अंजाम दिया घटना के बाद से आमदाई पहाड़ में सड़क निर्माण कार्य पर ब्रेक लग गया है कार्य शुरू करने के लिए कंपनी रूचि नही दिखा रही है 70, 80 बेरोगारो को रोजगार छीन गया है जिनका जानकारी गंगा राम , युगेन्द्र माझी , गोविद , सुखधर , समीर , डमरू , लखेश्वर , दूधनाथ , सुरेश , पूरन, चतुर , सरादू , फुलसिंग , नरसू , मया राम , मना , पंड्या , रामु राम , जुगरु , ठाकुर राम , बादराई , तुला राम जय लाल , कवलजीत , अमरसींग , फागु राम , देव सींग , मया , कलीगसाई , सम्भु लाल , कोमल इतने बेरोजगारों का रोजगार छीन गया । ग्रमीणों का कहना है कि बेरोजगार बढ़ना मतलब नक्सलियों का बढ़ना

बगैर सुरक्षा निको बना रही थी सड़क

मुख्यालय से करीबन 40 किलोमीटर दूर छोटे डोंगर के आमदाई पहाड़ मैं लोहा अयस्क भंडार मौजूद है इस लोहा अयस्क के खनन कदीमा निको जायसवाल कंपनी को सौंपा गया है इसके चलते आम दाई पहाड़ से लोहा अयस्क खनन करने के लिए निको कंपनी द्वारा शुरुआती दौर में आमदाई पहाड़ में सड़क निर्माण कार्य कराया जा रहा है इससे अंदाज पहाड़ से लोहा अयस्क खनन करने के बाद इसको सड़क मार्ग से रायपुर भिजवाया जा सके आमदनी पहाड़ से लोहा खनन करने का माओवादी विरोध कर रहे हैं निकों कंपनी द्वारा बिना सुरक्षा के आमदनी पहाड़ में सड़क निर्माण कार्य कराया जा रहा था जिसमें राजपुर , धनोरा, छोटे डोंगर , मुंडाटिकरा , सहित अन्य गांव के करीब 70 , 80 से ज्यादा मजदूर का कार्य कर रहे थे ।

नक्सलियों ने रेकी कर दिया घटना को अंजाम

आमदाई पहाड़ में सड़क निर्माण कार्य की बात नक्सलियों को नागवार गुजरी । इसके चलते आमदाई पहाड़ नहीं चल रही निर्माण कार्य की लाल लड़को के पूर्व बस्तर डिवीजन ने रेकी कर ली थी इस रेकी कि सुरक्षा बलों की अनुपस्थिति मैं निर्माण कार्य होने की बात सामने आने पर 4 सितंबर को दिनदहाड़े पूर्व बस्तर डिवीजन के 50 ,60 लाल लडको ने निर्माण स्थल पर दहशत देकर मजदूरों को निर्माण कार्य में नहीं पहुंचने की धमकी दी थी इसके बाद लाल लड़ाकों ने मजदूरों को वापस अपने गांव की ओर रवाना कर निर्माण कार्य में लगे दो पोकलेड को आग के हवाले कर दिया इसके साथ ही आमदाई पहाड़ खदान के विरोध में घटना पर पर्चे चिपकाकर नक्सलियों रवाना हो गए थे इस घटना के बाद आमदाई पहाड़ में सड़क निर्माण का कार्य रुका पढ़ा हुआ है इसके शुरू करने के लिए निको जायसवाल कंपनी कोई रुचि नहीं दिखा रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *