September 24, 2021
Breaking News

छग में अजब नक्सली पहले व़ाहन को आग लगाई, फिर माफी मांगी आग बुझाया और चले गए

हरित छत्तीसगढ़ बीजापुर।

कभी कभी नक्सलियों से भी गलती हो जाती है बुधवार की शाम को तारलागुड़ा मार्ग पर नक्सलियों द्वारा गलत वाहन को आग लगा देने के बाद अजीबोगरीब स्थिति में देखा गया कुछ ही देर में वे आग बुझाते नजर आए। विदित हो कि बस्तर क्षेत्र में निर्माण कार्य मे लगे वाहनों को नक्सलियों द्वारा आगजनी की घटना दिनोदिन लगातार जारी है वही आगजनी के बाद पुलिस द्वारा मामले में गम्भीरता नही दिखाए जाने से नक्सलियों के हौसले तो बुलन्द है ही साथ ही कई जगहों के निर्माण कार्य नक्सली ख़ौफ़ के चलते ठप्प पड़े है।

बुधवार की शाम को तारलागुड़ा मार्ग पर नक्सलियों द्वारा वाहन आगजनी के बाद चालक को बुलाकर माफी मांगी और आग बुझाने में चालक से मदद मांग आग बुझाई ओर चले गये। पहले तो टिप्पर वाहन को आग लगने बाद उन्हें पता चला कि उन्होंने गलत वाहन को आग लगा दिया है गलती होने की बात कहते हुए ड्राइवर से माफी मांगी और आग भभकने से पहले ही बुझाकर वहां से चले गए।
बुधवार को देर शाम करीब चार बजे तारलागुड़ा मार्ग पर देपला के समीप सड़क निर्माण में लगे टिप्पर को नक्सलियों ने आग लगा दी। प्रत्यक्षदर्शी टिप्पर चालक ने बताया कि ग्रामीण वेशभूषा में चार नक्सलियों ने देपला के समीप टिप्पर को रोक लिया और उसे नीचे उतारकर गाड़ी को आग लगा दी।चालक के अनुसार जाते-जाते नक्सलियों ने बताया कि आरपी प्रोजेक्ट के ठेकेदार त्रिनाथ रेड्डी की गाड़ियां उनके निशाने पर थीं, परंतु गलती से दूसरी गाड़ी को नुकसान पहुंचा दिया। बता दें कि नक्सलियों ने एक सप्ताह के अंदर जिले में अब तक तीन वाहनों को आग लगाई है, जिसके चलते इलाके में दहशत का माहौल हैजैसे ही उसने नक्सलियों को बताया कि टिप्पर महिला ठेकेदार सीतक्का का है, तो चारों नक्सली माफी मांगने लगे और कहने लगे कि उनसे अनजाने में गलती हो गई।

गाड़ी में आग फैलने से पहले ही नक्सलियों ने उसे बुझा भी दिया। इसके चलते टिप्पर को ज्यादा नुक्सान नहीं हो पाया। सिर्फ केबिन क्षतिग्रस्त हुआ है।विदित हो कि बस्तर क्षेत्र में निर्माण कार्य मे लगे वाहनों को नक्सलियों द्वारा आगजनी की घटना दिनोदिन लगातार जारी है वही आगजनी के बाद पुलिस द्वारा मामले में गम्भीरता नही दिखाए जाने से नक्सलियों के हौसले तो बुलन्द है ही साथ ही कई जगहों के निर्माण कार्य नक्सली ख़ौफ़ के चलते ठप्प पड़े है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *