July 26, 2021
Breaking News

अंग्रेजी माध्यम जोगपाल पब्लिक स्कूल पत्थलगांव मे मनाया गया हिंदी दिवस

हरित छत्तीसगढ़ 

अंग्रेजी भारत के लिए उपयोगी है लेकिन हिंदी भारत की आवश्यकता हैं हिंदी के बीना भारत गुंगा है यह बाते जोगपाल स्कूल के विद्यार्थियों ने हिंदी दिवस के अवसर पर कही। हिंदी दिवस के अवसर पर जोगपाल पब्लिक स्कूल पत्थलगांव में स्कूली बच्चों को हिंदी के महत्व को बताते हुए हिंदी दिवस समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा दैनिक समाचार,सामान्य ज्ञान, सदविचार हिंदी के दोहे निबंध व कविताएं हिंदी मे प्रस्तुत की गई।
इस मौके पर स्कूल के प्राचार्य जे मेहर ने कहा कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है। हमें अपनी हिंदी भाषा का सम्मान करना चाहिए उन्होने हिन्दी दिवस के अवसर पर अनेक जानकारियां भी दी। उपस्थित शिक्षकगण व छात्रगण को दूसरों की भलाई के लिए प्रेरित किया तथा हिंदी की उत्पत्ति के इतिहास से संबंधित विभिन्न जानकारियां प्रदान की गई तथा उपस्थित सभी को को हिंदी भाषी होने पर गर्व महसूस कराया 14 सितंबर 1949 को हिंदी हमारी राजभाषा घोषित की गई और तभी से देश में 14 सितंबर का दिन हिंदी दिवस के रुप में मनाया जाता है । इस मौके पर कक्ष नवमी की छात्रा शिवांगी अग्रवाल व कक्षा सांतवी की छात्रा राशी अग्रवाल ने हिंदी को ममतामयी मां मानते हुए हिदीं की पीड़ा का दर्शाकर कविता के माध्यम से सजीव वर्णन किया। इस दौरान स्कूल के व्यवस्थापक शरणजीत सिंह भाटिया ने हिंदी के महत्व को बताते हुए कहा कि वर्तमान परिवेश मे अंग्रेजी का ज्ञान होना समय की मांग है आज हर जगह इंग्लिश भाषा की ही मांग है। लेकिन हमें अपनी मातृभाषा और राष्ट्रभाषा को कभी नही भूलना चाहिये। भले ही आज इंग्लिश भाषा का ज्ञान होना बेहद जरुरी है लेकिन सफलता पाने के लिये हमें अपनी राष्ट्रभाषा को कभी नही भूलना चाहिये। क्योकि हमारे देश की भाषा और हमारी संस्कृति हमारे लिये बहुत मायने रखती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *