August 5, 2021
Breaking News

सहायक शिक्षक फेडरेशन छत्तीसगढ़ से त्रिव गति से जुड़ रहें है लोग, अन्य संघों में मचा हड़कंप!

सहायक शिक्षक फेडरेशन छत्तीसगढ़ से त्रिव गति से जुड़ रहें है लोग, अन्य संघों में मचा हड़कंप!

बमुश्किल 2 माह हुए हैं छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन का गठन हुए, पर शिक्षक बिरादरी के लोग इस तेजी से इस संगठन से जुड़ रहें हैं जिससे कई संघों में हड़कंप मच गई हैं। और कुछ लोग तो यह भी भीष्म प्रतिज्ञा कर रहें हैं कि अगर फेडरेशन सहायक शिक्षक एल बी (शिक्षा कर्मी वर्ग 3) की मांग पूरा करवाने में सफल होता है तो वे लोग अपने पद से इस्तीफा दे देंगें और कभी उस पद पर दुबारा नहीं बैठेंगें।
ज्ञातव्य हैं कि इसी साल जून माह में मुख्यमंत्री जी ने संविलियन की घोषणा की थी, परंतु शिक्षा कर्मी वर्ग 3 को संविलियन उसी प्रकार नही मिला जैसा उन्हें इसकी अपेक्षा थी।
जिला जशपुर से फेडरेशन के जुझारू कार्यकर्ता एलन साहू जी का कहना है कि जहाँ संविलियन के पूर्व 8 साल पूर्ण वाले शिक्षा कर्मी वर्ग 1, 2 और 3 को क्रमशः 32000, 30000 और 22000 औसतन प्राप्त होता था वहीँ संविलियन पश्चात उन्हें क्रमशः 41000, 38000 और 27000 औसतन प्राप्त हो रहा हैं।
इससे स्पष्ट है कि संविलियन पूर्व भी वर्ग 3 का वेतन वर्ग 1 और 2 से काफी कम फिक्स हुआ था। और संविलियन पूर्व वर्ग 3 के अधिकांश शिक्षकों में यह आशा जगी थी कि संविलियन पश्चात उनका वेतन भी वर्ग 1 और 2 के समानुपात में फिक्स किया जावेगा। परंतु ऐसा कुछ नहीं हुआ।

फेडरेशन के एक अन्य जुझारू कार्यकर्ता रवि गुप्ता जी का कहना है कि संविलियन से जिनकों पहले ही ज्यादा मिल रहा था उनको और ज्यादा दिया गया, और जिनका वेतन पहले ही कम था उन्हें और कम दिया गया।
मसलन वर्ग 1 में जिनको पहले 32,000 मिल रहा था उनका वेतन 41,000 हो गया, मतलब उनको प्रति माह करीब 9000 रु की वेतन में वृद्धि हुई।
वर्ग 2 में जिनको 30,000 मिल रहा था, उनका वेतन 38,000 औसतन हो गया। मतलब उनके वेतन में 8000 की बढ़होतरी हुई।
वहीँ वर्ग 3 में जिनका वेतन 22,000 था उनका वेतन औसतन 27000 हुआ। दूसरे शब्दों में वर्ग 3 का वेतन मात्र 5000 बढ़ा। इसलिए वर्ग 3 जो संविलियन पश्चात सहायक शिक्षक एल बी हो गए हैं, में काफी रोष हैं।

यहां गौरतलब यह भी है कि संविलियन पूर्व वर्ग 3 को हमेशा एकता की दुहाई देने वाले अधिकांश संघों ने संविलियन पश्चात वर्ग 3 के मांगों पर चुप्पी साधने में ही अपनी भलाई समझी।

शायद उनकी बेरुखी ही एक मुख्य कारण थी जो वर्ग 3 के शिक्षकों को अब तेजी से फेडरेशन में जुड़ने को प्रेरित कर रही हैं।

1 thought on “सहायक शिक्षक फेडरेशन छत्तीसगढ़ से त्रिव गति से जुड़ रहें है लोग, अन्य संघों में मचा हड़कंप!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *