July 26, 2021
Breaking News

ओपी चौधरी के अलावा ये अफसर भी इस चुनाव में ताल ठोकने को है तैयार

ओपी चौधरी के अलावा यह अफसर भी इस चुनाव में ताल ठोकने को है तैयार
हरितछतीसगढ़।। रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी के इस्तीफा देने के बाद पूरे प्रदेश में अधिकारियों द्वारा चुनाव लड़े जाने को लेकर चर्चा व्याप्त है ओपी चौधरी के अलावा इन चुनावों के लिए इस्तीफा देने वाले अफसरों में डीएसपी विभोर सिंह, डीएसपी किस्मतलाल नंद और निरीक्षक गिरिजा शंकर जौहर का नाम शामिल है।छत्तीसगढ़ में चुनावी रंग सरकारी अफसरों पर भी चढ़ गया है. पुलिस और प्रशासन के कई अफसर चुनावी मैदान में कूदने की तैयारी में हैं. पुलिस के अफसर जहां कांग्रेस पर भरोसा कर रहे हैं, वही प्रशासनिक अफसर बीजेपी पर. डीएसपी विभोर सिंह, डीएसपी गिरजा शंकर जौहरी और डीएसपी किस्मतलाल नंद ने पुलिस विभाग की नौकरी से इस्तीफा दे दिया है. अब तीनों अफसर विधान सभा चुनाव के लिए टिकट की दावेदारी कर रहे हैं.

विभोर सिंह कोटा विधानसभा से कांग्रेस की टिकट के दावेदार हैं। जौहर मस्तूरी विधानसभा से राजनीति में अपना भाग्य आजमाना चाहते हैं। पिछले चुनाव में डीएसपी पद से आरके राय ने इस्तीफा दिया था और विधायक बन गए।वही रिटायर्ड आईएएस एमएस पैकरा और रिटायर्ड एसडीओ अर्जुन हिरवानी को अजीत जोगी ने अपनी पार्टी से प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है। पैकरा पत्थलगांव विधानसभा सीट और हिरवानी संजारी-बालोद विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। रिटायर्ड आईपीएस शिशुपाल सोरी ने कांग्रेस में अपनी दावेदारी पेश की है। वे कांकेर विधानसभा से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। चर्चा है कि रिटायर्ड आईएएस गणेश शंकर मिश्रा, रिटायर्ड आईपीएस आरसी पटेल और रिटायर्ड डीएसपी जीएस बाम्बरा भी चुनावी मैदान में ताल ठोंकने को तैयार खड़े हैं।इसके पहले 2013 के विधान सभा चुनाव में डीएसपी आर.के राय भी नौकरी छोड़कर विधान सभा चुनाव में कूदे थे. वह गुंडरदेही से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव भी जीते. हालांकि कांग्रेस के नेताओं से उनकी पटरी नहीं बैठी, और वे पार्टी छोड़ अजित जोगी के खेमे में चले गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *