January 20, 2022
Breaking News

कुदरगढ़:आकाशिय गाज की चपेट में आकर मरी बेटी को जिंदा करने गोबर में गाड़ बिलखती रही मां

हरित छत्तीसगढ़

सूरजपुर. ग्रामीण क्षेत्रों में मान्यता है कि यदि आकाशिय बिजली की चपेट में आये पीड़ित को गोबर में गाड़ दिया जाए तो उसकी हालत में सुधार आ सकता है इसी तरह का वाक्या सूरजपुर जिले के ग्राम कुदरगढ़ के सेंदरीपारा में सोमवार को देखने मे मिली यहां सोमवार को 3 किशोरियां को आकाशिय बिजली ने अपनी चपेट में लिया जिससे एक कि मौत हो गयी वही दो लोग बुरी तरह झुलस गए हादसे के बाद परिजनों ने तीनों को घर लाकर घायल दोनो किषोरी को अस्पताल में भर्ती कराया उसके बाद मृत लड़की के सर को छोड़कर पूरा शरीर गोबर के कुंड में गाड़कर उसके जिंदा होने का इंतजार करते रहे।
मिली जानकारी के मुताबिक सूरजपुर जिले के ओडग़ी ब्लॉक अंतर्गत ग्राम कुदरगढ़ के सेंदरीपारा में सुबह करीब 11 बजे आकाशीय बिजली की चपेट में आकर १६ वर्षीय पिंकी चेरवा पिता अमृतसाय चेरवा की मौके पर ही मौत हो गई। मृतिका गांव की ही अपनी 2 सहेलियों ललिता 16 वर्ष व इन्द्रकुमारी 15 वर्ष के साथ घर खेत में मिट्टी लेने गई थी। इसी दौरान अचानक बारिश होने लगी और आसमान में बादल गरजने लगे।देखते ही देखते अचानक तेज आवाज के साथ आसमानी बिजली गिरी और किशोरियों को अपनी चपेट में ले लिया। हादसे में पिंकी चेरवा की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि उसकी सहेलियां ललिता व इन्द्रकुमारी को अचेतावस्था में ओडग़ी अस्पताल में दाखिल कराया गया। इधर मृतिका के परिजन अंधविश्वास के फेर में पड़कर उसके शव को गांव में ही गोबर के ढेर में गाड़ दिया। करीब १ घंटे तक शव गोबर में गड़ा रहा। मृतिका की मां शव के समीप ही बिलखती रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *