August 3, 2021
Breaking News

युवाओं को सृजन कार्यक्रम के तहत दिया गया प्रशिक्षण

हरित छत्तीसगढ़ रायपुर
रायपुर। देना ग्रामीण स्वरोजगार संस्थान रायपुर द्वारा प्रधानमंत्री स्वरोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण के समापन समारोह का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आरंग विधायक श्री नवीन मार्कण्डेय ने कहा कि प्रशिक्षणार्थियों को जीवन में लक्ष्य प्राप्त करने के लिए निरंतर प्रयास करते रहना चाहिए। उन्होनें अनेक उदाहरणों से उद्यमियों को प्रोत्साहित भी किया। उन्होंने कहा कि संसाधनों की कमी लक्ष्य प्राप्ति में कभी बाधा नही हो सकती। श्री मार्कण्डेय ने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य के पद्मश्री श्रीमती फुलबासन यादव का उदाहरण देते हुये कहा कि शिक्षा और पूंजी का अभाव उनके लक्ष्य पूर्ति मंे बाधक नही बन सका और वे महिलाओं को स्वयंसहायता समूह के माध्यम से जोड़कर स्वावलंबी बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान दे रही है। उन्होंने भावी उद्यमियों को शासकीय योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना और मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा ऋण ब्याज अनुदान योजना का लाभ उठाने को प्रेरित किया।
इसी तरह देना बैंक के आरसेटी रायपुर निदेशक श्री पारस नाथ चौरसिया ने आरसेटी द्वारा आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रमों की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि संस्थान द्वारा अब तक कुल 183 प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से 4191 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षित किया जा चुका है। इनमें सेे 2699 प्रशिक्षणार्थियों ने स्वयं का रोजगार प्रारंभ कर लिया है। श्री चौरसिया ने देना आरसेटी में ग्रामीण युवाओं हेतु आगामी आयोजित किये जाने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रम जैसे मोबाइल रिपेयरिंग, हाउस वायरिंग, मोटर वाईडिंग, कार ड्राइविंग, कम्प्युटर हार्डवेयर, महिला एवं पुरूष दर्जी, मशरूम उत्पादन और दो पहिया वाहन सर्विसिंग आदि के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर देना आरसेटी के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *