October 22, 2021
Breaking News

जान जोखिम मे डाल पानी से लबालब पुलिए को पार कर रहे राहगिर

हरित छत्तीसगढ़
विवेक तिवारी पत्थलगांव।

जिले में इन दिनों धान की फसल के अनुरूप वर्षा हो रही है। हालांकि इससे नदी और नालो में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा कर दी है लेकिन अभी तक जिले में किसी तरह की बाढ़ की स्थिति नहीं है। इन दिनो हो रहे झमाझम बारिश से पत्थलगांव के किलकिला मांड नदी का जलस्तर दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है और पानी लबालब भर चुका है। वहीं तमता मार्ग स्थित खरकटटा को पुलिया भी लबालब भर गया है। राहगिर इस पुलिए से जान जोखिम डालकर गुजर रहे हैं।
तमता मार्ग स्थित खरकटटा मे पानी से लबालब पुलिया को पार करने राहगिर मजबुर हो गए हैं।
इन दिनों से हो रही तेज बारिश ने मानसून प्रेमियों के चेहरों पर खुशी ला दी है। कुछ ही दिनो पूर्व दूर.दूर तक सूखी नजर आने वाली किलकिला मांड नदी अब चारों तरफ उफनती दिखाई दे रही है। जिसे देखने भारी संख्या मे नागरीक वहां पहुंच रहे है।
नई सीढिय़ों तक पहुंच रहा पानी
लगातार के बारिश के बाद नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया हैए किलकिला मे बने एनीकट के उपर से बह रहे तेज पानी से छोटा सा जलप्रपात सा नजारा दिखाई दे रहा है। वहीं पानी के तेज बहाव को देखने के लिए कापू मार्ग स्थित पुलिया की रेलिंग पर हाथ टिकाए सैकड़ों लोग खड़े देखे जा सकते है। पुलिया से सटकर बह रहे पानी का बहाव काफी तेज दिख रहा है जिसे देखकर लागे रोमांिचत हो रहे हैए जिसके कारण पुलिया के रेलिंग पर हाथ टिकाए टकटकी के साथ लोग बहते पानी को देख रहे हैं। वहीं तमता मार्ग स्थित खरकटटा पुलिया के लबालब भर जाने के बावजुद लोग उस मार्ग से जान जोखिम मे डालकर गुजर रहे है यहां के जनप्रतिनिधि रोशन राठिया व अन्य जागरूक निवासी राहगिरों को हिदायत देते नजर आ रहे थे कि वे पानी से लबालब पुलिया से दूर रहें। वहीं दुसरी ओर किलकिला मंदिर की बनी सीढिय़ां पूरी डूब चुकी है और उपर की सीढिय़ा भी डुबने के कागार पर है उपर तक पानी पहुंचने लगा है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *