July 25, 2021
Breaking News

छत्तीसगढ़, सरकारी डॉक्टर को 14 माह से वेतन नही, मुफलिसी में रहकर दे रहे सेवा

हरित छत्तीसगढ़ संजय तिवारी पत्थलगांव।
पत्थलगांव सिविल अस्पताल मे पदस्थ एक एमबीबीएस चिकित्सक 14 माह से वेतन नही मिलने से मुफलिसी के दौर से गुजर रहा है बार बार स्वास्थ्य महकमे से वेतन की गुहार लगाकर थक चुके इस चिकित्सक के पास अब आंदोलन के अलावा और कोई चारा नही दिख रहा है। 14 माह से वेतन के आभाव मे भुखमरी के कागार पर पहुंच गए इस चिकित्सक द्वारा इस दौर मे भी चिकित्सीय सेवा कर पुरे स्वास्थय महकमे को कटघरे मे ला दिया है।
          जंहा एक ओर छत्तीसगढ़ राज्य चिकित्सकों की कमी से जुझ रहा है एंव इसी कमी को देर करने पूर्व के मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने त्रीवर्षीय पाठयक्रम वाले चिकित्सकें को शासकीय चिकित्सक बनाकर उनसे सेवा लेना शुरू कर दिया था वहीं पत्थलगांव चिकित्सालय मे पदस्थ एमबीबीएस की डिग्री वाले डाक्टर संतोष पटेल पिछले एक वर्ष से अपने वेतन के लिए गुहार लगा रहे है किंतु उनके गुहार को छत्तीसगढ़ शासन पर कोई असर नही हो पा रहा है। गौरतलब हो कि पत्थलगांव मे सेवा दे रहे पटेल डाक्टर ने अपने अल्प समय मे ही सुलभ चिकित्सा सेवा कर ग्रामीण क्षेत्रों मे ख्याती बना ली है वहीं वेतन नही मिलने से अब उनके सामने रोजी रोटी की समस्या खड़ी हो गई है। डाक्टर संतोष पटेल ने बताया कि अपने वेतन की मांग को लेकर कई मर्तबा उच्चअधिकारियों को पत्र भेजकर वेतन दिलाने की गुहार लगाने के बावजुद उनकी समस्या का निराकरण नही हो पा रहा है, उन्होने बताया कि पूर्व मे डौंडी जिला बालौद मे पदस्थ थे किंतु पिछले 14 माह से उन्हे वेतन नही मिल रहा है अधिकारी हर बार अगले माह वेतन मिल जाने का आश्वासन जरूर देते नजर आ रहे है। डा पटेल ने बताया कि उच्चाधिकारियों से बात करने पर हर बार यही आश्वासन की अगले माह आपका वेतन मिल जाएगा कहते हुए आज 14 माह होने को आ गया है। इस संबध मे जिसने भी डाक्टर को एक साल से ज्यादा समय तक वेतन नही मिलने की बात सूनी उनका कहना था कि वैसे देखा जाए तो यह डाक्टर एक वर्ष से उपर तक बगैर वेतन के शासकीय सेवा देने वाले यह देश के एकमात्र चिकित्सक हो सकते है बहरहाल चिकित्सीय सेवा देने वाले सरकारी चिकित्सकों का वेतन ही सही समय मे सरकार दिला पाने मे असर्मथ हो तो फिर स्वास्थ्य सुविधाओं मे लगातार इजाफा करने का गुणगान करने वाली सरकार से बेहतर स्वास्थ्य सेवा कैसे उम्मीद की जा सकती है।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *