September 24, 2021
Breaking News

रायपुर,भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा का कांग्रेस के विरोध में धरना

हरित छत्तीसगढ़ रायपुर

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा के द्वारा लगातार देश भर में कांग्रेस के विरोध में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी कड़ी में भाजपा रायपुर जिला पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा धरना स्थल बूढ़ातालाब में धरना दिया गया।
धरना स्थल पर सभा को संभोधित करते हुए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि कांग्रेस के द्वारा पिछड़ा वर्ग के हित वाले बिल को राज्यसभा में पास नहीं होने देना कांग्रेस की पिछड़ा वर्ग के लोगों के प्रति भावना को उजागर करती है। कांग्रेस के द्वारा अपनी अलग-अलग सरकारों में अनेक बार समिति बनाकर कांग्रेस को पिछड़ों की शुभचिंतक दिखाने का प्रयास किया गया। हर बार पिछड़े वर्ग के लोगों को भुलावा में रखा गया लेकिन इस बार राज्यसभा में कांग्रेसियों के कृत्य ने कांग्रेस का सही चेहरा सामने ला दिया है।
श्री कौशिक ने कहा कि पूरे देश की जनसंख्या में लगभग 52 प्रतिशत भागीदारी पिछड़े वर्ग के लोगों की है इसके बावजूद कांग्रेस के द्वारा पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाने वाली बिल का विरोध करना पिछड़ा वर्ग के लोगों के साथ मजाक है पिछड़े वर्ग के लोग इन सब बातों से कांग्रेस की चरित्र को समझ रहे हैं आने वाले दिनों में कांग्रेस पार्टी को इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। वैसे भी इन्हीं सब दोहरे चरित्र के कारण आज कांग्रेस पार्टी पूरे देश में सिमटती जा रही है किसी समय लोग सभा में तीन चौथाई बहुमत रखने वाली कांग्रेस पार्टी को लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष बनाने के लिए संख्या के लाले पड़ गये हैं। पिछड़ा वर्ग अब कांग्रेस पार्टी को सबक सिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी आने वाले दिनों में प्रदेश भर में मंडल स्तर पर गांव-गांव में जाकर कांग्रसे की पिछड़ा वर्ग विरोधी नीति का विरोध किया जायेगा।
धरने को संबोधित करते हुए भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कोमल जंघेल ने कहा कि अब कांग्रेस का असली चेहरा सामने आ गया है। कांग्रेस पार्टी हमेशा से पिछड़ा वर्ग का विरोध करती है लेकिन जनता के बीच पिछड़े का हितैसी बनने का ढोंग करती आई है। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाने वाली एक बिल केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा लाया गया इस बिल को लोकसभा में बहुमत के साथ पास करके राज्य सभा भेजा गया राज्यसभा में कांग्रेस की बहुमत है। राज्य सभा में बिल आते ही कांग्रेस पार्टी के सांसदों ने इस बिल का विरोध किया अंतत: यह बिल राज्यसभा में पास नहीं हो पाया इस घटना से कांगे्रसियों का असली चरित्र सामने आ गया।

धरना स्थल पर सभा में प्रमुख रूप से छत्तीसगढ़ बीज विकास निगम के अध्यक्ष श्याम बैस, वनौषधी बोर्ड के अध्यक्ष रामप्रताप सिंह, बिलासपुर के सांसद लखनलाल साहू, पूर्व विधायक नन्दकुमार साहू, सुनील सोनी, प्रफुल्ल विश्वकर्मा, सुखनंदन सोनकर, अंबिका यदु, कुर्मी समाज के मुखिया केदार चंद्राकर, मनोज प्रजापति, आरडीए अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव, रायपुर जिला के प्रभारी लीलाराम भोजवानी सच्चिदानंद उपासने, अशोक पांडेय, हेमेन्द्र साहू, शैलेन्द्री परगनिहा, शताब्दी पांडे, लीलाधर चंद्राकर, प्रदीप वर्मा, पंकज निर्मलकर, राजेश ताम्रकार, होरीलाल देवांगन मुकेश शर्मा, ज्ञानचंद चौधरी, सीमा साहू, पद्मा चंद्राकर, नरेन्द्र यादव, अजय साहू, अमृत लाल साहू, रितेश सहारे, गोपी साहू, खेमलाल साहू, राकेश दास वैष्णव, सुभद्रा तंबोली, रमेश यदु, मनीष देवांगन, हरीश चौधरी, संजय रजक आदि सैकड़ों की संख्या में कार्यक्रता उपस्थित थे। धरने का संचालन भाजपा जिला महामंत्री जयंती पटेल ने किया एवं आभार प्रदर्शन पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिलाध्यक्ष जुगल किशोर निर्मलकर ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *