September 24, 2021
Breaking News

नरेंद्र मोदी चुना हुआ आतंकी, आरएसएस आतंकवादी पार्टी विदेश मंत्री


पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने भारत में गौरक्षा की आड़ में मुसलमान, दलित और ईसाई मारे जाने की बात कहते हुए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए चुना हुवा आतंकवादी शब्द कहे है। जनसत्ता ऑनलाइन में प्रकाशित खबर के मुताबिक पाकिस्तानी विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने सोमवार ( दो अक्टूबर) को एक टीवी कार्यक्रम में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए “चुना हुआ आतंकवादी” कह दिया। ख्वाजा आसिफ ने जियो टीवी के पत्रकार हामिद मीर से बातचीत में कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री के “हाथ पर गुजरात के मुसलमानों का खून है।” ख्वाजा आसिफ ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को “आतंकवादी पार्टी” कहा। ख्वाजा आसिफ ने कार्यक्रम में कहा, “ऐसे देश के बारे में हम क्या कहें कि जिसने एक आतंकवादी को चुन लिया है।” पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने दावा किया कि भारत में गौरक्षा की आड़ में मुसलमान, दलित और ईसाई मारे जा रहे हैं। पाकिस्तान विदेश मंत्री ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में बीजेपी को बहुमत “सांप्रदायिक सवर्ण हिंदुओं” की वजह से मिला है।
इंटरव्यू में ख्वाजा आसिफ ने उन खबरों का खंडन किया जिनमें कहा गया था कि अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को भारतीय पूर्व नौसैनिक अधिकारी कुलभूषण जाधव को छोड़ने के बदले पेशावर में साल 2014 में एक स्कूल पर हमला करके 140 से ज्यादा लोगों को हत्या करने वाले आतंकवादियों कौ सौंपना का प्रस्ताव दिया है। पेशावर स्कूल हमले में ज्यादा बच्चे मारे गये थे। उसके बाद पाकिस्तानी सरकार देश के अंदर ही आतंकवादियों के प्रति नरमी दिखाने को लेकर घिर गयी थी। माना जा रहा है कि आसिफ का बयान संयुक्त राष्ट्र आम बैठक में भारत और पाकिस्तान के बीच हुई तीखी नोकझोंक का नतीजा है। अभी हाल ही में हुई संयुक्त राष्ट्र आम सभा की 72वीं बैठक में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को “आतंकवादी खौफ, मौत और अमानवीयता का सबसे बड़ा सौदागर कहा था।”
इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने अमेरिका में एक कार्यक्रम में कहा था कि पाकिस्तान ने भारत की “कोल्ड स्टार्ट” रणनीति से निपटने के लिए शार्ट-रेंज परमाणु हथियार बनाये हैं। हालांकि भारतीय सेना ऐसी कोई रणनीति होने से इनकार करती रही है। पाकिस्तानी दावा करते हैं कि भारतीय सेना ने युद्ध की स्थिति में पाकिस्तानी परमाणु हमले से बचने के लिए ये रणनीति बना रखी है।
खबर स्त्रोत जनसत्ता ऑनलाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *