January 20, 2022
Breaking News

लो एक बार और छला गया जूदेव नगरी जशपुर ,सस्ती वातानुकूलित बस सेवा से वंचित

हरित छत्तीसगढ़ जशपुर

जशपुरनगर. रेल लाइन समेत बेहतर स्वास्थ्य, शिक्षा और परिवहन जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित जशपुर जिला को प्रदेश सरकार ने सस्ती, सुरक्षित और आरामदायक परिवहन सेवा से भी महरूम कर दिया केबिनेट बैठक में हुए निर्णय के मुताबिक प्रदेश की जनता को सस्ती, सुरक्षित और आरामदायक परिवहन सेवा उपलब्ध कराने के लिए 18 जगहों पर वातानुकूलित बसों का संचालन किया जाएगा जिसमे प्रदेश का लगभग सभी महत्वपूर्ण जिलों तक वातानुकूलित बसों का संचालन तय है लेकिन प्रशासनिक व राजनैतिक उदासीनता के चलते व्यापारिक व राजनैतिक दृृष्टि से महत्त्वपूर्ण जशपुर जिले को इस महत्वपूर्ण सेवा से वंचित कर देना कही न कहीं जिले के राजनेताओं के कार्यशैली पर सवाल उठाते नजर आ रहे है। बरसो से रेल लाइन सुविधा को तरस रहे जिलेवासी को वेसे भी बेहतर स्वास्थ्य सेवा ,शिक्षा,बेहतर परिवहन सुविधा के ही जीने की आदत हो गयी है यही वजह है कि हर बार सुविधाओ के विस्तार में जशपुर जिले को अलग थलग कर दिया जाता है और जिलेवासी की चुप्पी युही बनी रहती है अब इसे जिलेवासी की मजबूरी समझे या फिर अव्यवस्थाओ में जीने की आदत ।।। ,,,

हालांकि देखा जाए तो जशपुर जिला का देशभर की राजनीति में एक अलग मुकाम हाशिल है लेकिन सुविधाओं के नाम पर कौंन से मुकाम पर है यह जिलेवासियों से बेहतर औऱ कौन बता सकता है। जबकि छत्तीसगढ़ सरकार के प्रतिनिधित्व कार्यक्रमों में जिले से कई नेता शामिल होकर सरकार का गुणगान करते नजर आते है जहाँ दो सांसद उसमे एक केंद्रीय मंत्री और जिले की तीनों विधानसभा सत्ता पक्ष से साथ ही संगठन में भी जिले से कई महत्वपूर्ण पद उसके बावजूद भी जिले को हर बार उपेक्षित किया जाना समझ से परे है।
18 जगहों पर होगा बसों का संचालन
प्रदेश की जनता को सस्ती, सुरक्षित साधारण वातानुकूलित बस सेवाओं के माध्यम से सामान्य जनता को कम किराए में उच्च श्रेणी की परिवहन सुविधा मिलेगीप्रदेश की जनता को सस्ती, सुरक्षित और आरामदायक परिवहन सेवा उपलब्ध कराने के लिए इन बसों को संचालित किया गया है। इन बसों के माध्यम से जहां एक ओर सामान्य जनता को कम किराए में वातानुकूलित बस सेवाओं की सुविधा मिलेगी, वहीं उच्च आय वर्ग के यात्रियों को भी उच्च श्रेणी की वातानुकूलित बस सेवा की सुविधा उपलब्ध होगी।
रायपुर से अंबिकापुर ( स्टॉपेज- हाईकोर्ट और बिलासपुर सिटी)
रायपुर से कोरबा ( स्टॉपेज- हाईकोर्ट और बिलासपुर सिटी)
रायपुर से जांजगीर-चांपा ( स्टॉपेज- हाईकोर्ट और बिलासपुर सिटी)
रायपुर से बिलासपुर ( स्टॉपेज- हाईकोर्ट और बिलासपुर सिटी)
रायपुर से रायगढ़ ( स्टॉपेज- हाईकोर्ट )
रायपुर से सारंगढ़( स्टॉपेज- बलौदबाजार )
रायपुर से महासमुंद ( नान स्टॉप)
रायपुर से गरियाबंद ( नान स्टॉप)
रायपुर से धमतरी ( नान स्टॉप)
रायपुर से कांकेर ( नान स्टॉप)
रायपुर से जगदलपुर (स्टॉपेज – कोण्डगांव )
रायपुर से बालोद ( स्टॉपेज- दुर्ग )
रायपुर दुर्ग ( नान स्टॉप)
रायपुर से राजनांदगांव ( नान स्टॉप)
रायपुर से बेमेतरा ( नान स्टॉप)
रायपुर से मुंगेली ( नान स्टॉप)
रायपुर से कवर्धा ( स्टॉपेज- बेमेतरा )
वही जशपुर जिले को इस सेवा से वंचित किया जाना लोगो के समझ से परे है जिला मुख्यालय समेत जिले के सभी कस्बो आस-पास के गांवों से राजधानी हेतु बेहतर बस सुविधा के अभाव में लोगो को निजी बसों व टैक्सियों से यात्रा करने की वजह से समय के साथ-साथ आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। प्रशासनिक व राजनैतिक उदासीनता के चलते व्यापारिक व राजनैतिक दृृष्टि से महत्त्वपूर्ण जिला मुख्यालय से राजधानी हेतु शासन द्वारा प्रस्तावित सस्ती सुलभ वातानुकूलित बस सेवा का परिचालन न हो पाना जिलेवासियों के साथ छल किये जाने जैसा है। विदित हो कि इस जिले से परिचालन होने वाले अधिकांश सवारी बसो में क्षमता से अधिक सवारियां बैठाया जाना आम बात है इस कारण यात्रियों को अधिक किराया चुकाकर जान जोखिम में डालनी पड़ रही है। जशपुर रायपुर रूट पर पुरूषों के अनुपात में बराबर महिलाएं भी आवागमन करती है। जिन्हें वर्तमान में सरकारी छूट का फायदा नहीं मिल रहा है। यदि शासन द्वारा प्रस्तावित सुरक्षित वातानुकूलित सस्ती किराया वाली बस का संचालन होता तो महिलाओं को उक्त तीस प्रतिशत छूट का फायदा मिलने के साथ-साथ अन्य बस संचालकों द्वारा भी वाजिब किराया वसूल किया जाता।इस रूट से हजारों यात्री यात्रा करते हैं इसलिए यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए इस मार्ग से रायपुर हेतु शासन की प्रस्तावित बस का परिचालन करने की बेहद आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *