Sharing is caring!

जशपुर की महिलायें अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हैं- कलेक्टर नीलेश कुमार क्षीरसागर

एरोबिक्स एवं जुम्बा स्वयं को फिट रखने का बेहतर तरीका

महिलाओं के स्वास्थ एवं आत्मनिर्भर बनाने हेतु जिले में हुऐ विविध कार्यक्रम

जशपुर-ःएरोबिक्स और जुम्बा के प्रतिदिन अभ्यास से महिलायें स्वस्थ रह सकती है, जशपुर की महिलाओं का एरोबिक्स और जुम्बा के प्रति लगाव एवं निरंतर अभ्यास यह स्पष्ट करता है कि यहां की महिलायें अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरुक है।
उक्त विचार जिला जिला कलेक्टर निलेश महादेव क्षीरसागर ने एरोबिक्स प्रशिक्षण शिविर की प्रतिभागियों द्वारा आयोजित सम्मान समारोह के अवसर पर व्यक्त करते हुए कहा कि यह काफी प्रसन्नता की बात है कि जशपुर की महिलाऐं लगातार एक माह से नियमित रूप से एरोबिक्स एवं जुम्बा प्रशिक्षण शिविर में अपनी सहभागिता निभा रही है और लाभान्वित हो रही है। उन्होनें कहा कि स्वयं को फिट रखने के लिए एक्सरसाइज के कई तरीके है। योग और व्यायाम के अलावा एरोबिक्स स्वयं को फिट रखने का बेहतर तरीका है, जिसमें व्यक्ति बोर नहीं होता है। एरोबिक्स सिर्फ शारीरिक सेहत के लिए फायदेमंद नहीं है बल्कि व्यक्ति के दिमाग के लिए भी एक बेहद असरकारी एक्सरसाइज है,जो तन व मन दोनों को स्वस्थ रखता है। एरोबिक्स से ब्रेन की कोशिकाए नुकसान होने से बचे रहती है और यह व्यक्ति को आॅक्सीजन की बेहतर आपूर्ति में मदद करती है। एरोबिक्स मानसिक समस्याओं और विशेषकर तनाव व डिप्रेशन के लिए लाभकारी है इसके साथ ही वजन कम करने के मामले में यह एक्सरसाइज काफी मददगार साबित होता है।

इस अवसर पर डाॅ पल्लवी क्षीरसागर ने कहा कि एरोबिक्स एक्सरसाइज के माध्यम से महिलाए कई प्रकार की बीमारियों से बचे रह सकती है। यह तय है कि यदि महिलाऐं एरोबिक्स एवं जुम्बा का प्रतिदिन अभ्यास करती है तो वे स्वस्थ रहेगीं। कार्यक्रम में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही महिलाओं अंजू,रूचि,रैना, विभा ,आदि ने जिला प्रशासन द्वारा महिलाओं के लिए आयोजित एरोबिक्स एवं जुम्बा प्रशिक्षण शिविर से महिलाओं को होने वाले लाभ के बारे में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जशपुर जिले के इतिहास में पहली बार किसी कलेक्टर ने महिलाओं के स्वास्थ एवं आत्मनिर्भर बनाने हेतु विभिन्न कार्यक्रम संचालित किये गये है। अल्प अवधि में महिलाओं के लिए स्पोकन इंग्लिश,कार ड्रायविंग, एरोबिक्स एवं जुम्बा प्रशिक्षण ,ई-साक्षरता, जैसे कार्यकम आयोजित कर यह साबित कर दिया है कि प्रशासन, महिलाओं के विकास हेतु दृढ संकल्पित है। जिला कलेक्टर की पहल के कारण आज महिलाऐं घर से बाहार निकलकर विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण में अपनी सहभागिता निभा रही है इससे महिलाओं के साथ ही परिवार वाले भी प्रसन्नचित है।
कार्यक्रम में जिला कलेक्टर निलेश महादेव क्षीरसागर, डाॅ पल्लवी क्षीरसागर,संकल्प के प्राचार्य विनोद गुप्ता,यशस्वी जशपुर के संजीव शर्मा,सरीन राज एवं नव संकल्प कह श्रीमती रत्ना गुरू का सम्मान प्रशिक्षणर्थियों द्वारा किया गया। कार्यक्रम संचालन रुचि पांडेय ने किया। कार्यक्रम में एरोबिक्स एवं जुम्बा प्रशिक्षक श्रीमती मधु मिश्रा सहित श्रीमती हेमा शर्मा,श्रीमती अर्चना अग्रवाल, श्रीमती डौली कुशवाहा, श्रीमती सुजाता सोनी,श्रीमती खुशबू सोनी,सुलोचना सिंह, ऋतु गुप्ता, रैना, रूचि, अंजू सहित समस्त प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थे।

Sharing is caring!