December 5, 2021
Breaking News

जानिए किस कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने भाजपा के गढ़ जूदेव नगरी में फहराया परचम

हरित छत्तीसगढ़ जशपुर संजय तिवारीमिली जानकारी अनुसार छत्तीसगढ़ कांग्रेस कमेंटी में जिलाध्यक्षों की फेर बदल होनी है जिसमे जशपुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष को भी लेकर कई बातें सामने आई है।सूत्रों के हवाले से तो यह भी पता चला है कि वर्तमान जशपुर के जिलाध्यक्ष के पद में भी बदलाव होने वाला है जिसके वजह से जशपुर जिले में जिलाध्यक्ष के पद को लेकर राजनीति गर्म हो गई है।और लोगों ने अलग अलग राय दिया है,लोगों का मानना है कि जिले में खासकर जशपुर को बीजेपी का अभेद गढ़ कहा जाता था ,,यहाँ तक की आम जनता जनार्दन के विषय में बीजेपी के लोग कहा करते की अगर बीजेपी किसी खूंटे की ओर ईशारा कर दे तो जशपुर के मतदाता खूंटे तक को व्होट देकर विजयी बना दें — लेकिन आज क्या ऐसा है – नही — जिस गढ़ में कद्दावर जनप्रतिनिधियों की भरमार हो जिस जिले में तीनो विधानसभा की सीट बीजेपी के पास हो जिसकी प्रदेश में सरकार हो — उसी जिले में कोतबा,पत्थलगांव,बगीचा की नगरपंचायत एक झटके में चित्त हो गयी,,,,क्या यह जिलाध्यक्ष का कारनामा नही हो सकता क्यों कि यह कारनामा पहले नही हुवा था,,और तो और रही सही कसर जशपुर नगरपालिका ने उतार दी अध्यक्ष् के साथ साथ चार पार्षद भी चली गयी कांग्रेस के पक्ष में,,, जशपुर में कांग्रेस की इतनी बड़ी जीत की और बीजेपी की नगरपालिका की हार की कल्पना बीजेपी ने नहीं की थी ,,,,,,,जशपुर जिले के बगीचा ब्लाक अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता,कांसाबेल ब्लाक अध्यक्ष पूनम गुप्ता,जिलाध्यक्ष पिछड़ा वर्ग परमेश्वर यादव का कहना है कि ये — जीत चमत्कारिक नही बल्कि जिले भर के एक एक कट्टर कांग्रेस के सिपाहियों की दिन भर के कड़ी मेहनत और निर्वाचित हुए कांग्रेस के अध्यक्ष् के साथ जिले के वर्तमान जिलाध्यक्ष् पवन अग्रवाल जी की अथक मेहनत का परिणाम है ।। अग्रवाल के समर्थकों ने जिलाध्यक्ष की प्रशसा करते हुवे बताया कि नगरपंचायत और नगरीय निकाय की जीत यहीं नही थमी। जिले में अग्रवाल जी की अगुवाई में कांग्रेस पार्टी ने कॉलेज के चुनाव में अधिकाँश सीटों पर एन एस यू आई के छात्रों ने भारी जीत दर्ज कर बीजेपी की कूल्हे हिला दी ।। ऐसे ही नेतृत्त्व करने वाले जिले के मुखिया और जिले भर के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने अपनी अथक मेहनत और कड़ी परिश्रम से आम जनता से लेकर खास जनता जनार्दन के बीच पहुँचकर जिले भर में सरपंच सचिव, बी डी सी , डी डी सी का चुनाव जीतकर इतिहास रच दिया –– ये जीत विगत तीन वर्षों में कांग्रेस जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में कांग्रेस ने हांसिल की है। अगर हारने वाले कप्तान की बेदखल किया जाता है तो जितने वाले और जिताने वाले के सिर सेहरा भी बाँधा जाता है तो जिलाध्यक्ष का प्रसंसा होना चाहिए– कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष् भूपेश बधेल और प्रतिपक्ष् नेता टी एस सिंह देव् के नेतृत्व में लगातार हर मुद्दे को जो समाज के हर तबके से जुड़ा है ईमानदारी के साथ जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने उठाया है यही कारण रहा की पुरे जिले में कांग्रेस की हर क्षेत्र चाहे ग्राम पंचायत,नगरपंचायत,नागरपालिका, में कांग्रेस को अजेय बढत के साथ जीत हासिल हुई है — जो लोग ये उंगली उठा रहे है की कांग्रेस प्रदेश और जिले में कमजोर हुई है ।। तो शायद उनको अब आंकलन करने की जरुरत है की प्रदेश और जिले में कमजोर कौन हुई है बीजेपी या कांग्रेस। रहा सवाल हमारे जिले से लेकर प्रदेश तक के नेतृत्वकर्ता की तो पुरे प्रदेश भर में चाहे भुपेश बघेल हो श्री टी एस सिंह देव् , चरणदास महंत या उमेश पटेल , से लेकर वर्तमान में कांग्रेस के विधायक चाहे धर्मजयगढ़ के हो या सामरी के या सरगुजा के हर एक शीर्ष के छोटे से बड़े नेता जशपुर जिले का दौरा कर चुके है और कर रहे है यहाँ तक की राष्ट्रीय स्तर के बड़े बड़े नेता जशपुर जिले का दौरा कर रहे है ।। इसे गुटबाजी का नाम देना या जिले या प्रदेश में कांग्रेस में गुटबाजी चल रही है कहना लाजमी नही होगी। प्रदेश प्रतिनिधि शिव प्रताप साय ने बताया कि वर्तमान में पुरे जिले भर में कांग्रेस पार्टी जिलाध्यक्ष् पवन अग्रवाल और माननीय श्री रामपुकार जी के साथ साथ जिले के सभी वरिष्ठ कांग्रेसी हो या कार्यकर्ता हो आम जनता की हक़ की लड़ाई लड़ रहे है ।। जशपुर जिला प्रवक्ता सूरज चौराशिया ने कहा कि कांग्रेस में गुटबाजी की बात कहने वालों से पूछना चाहता हूं कि क्या जिले के बीजेपी पार्टी में गुटबाजी चरम पर है इसका आंकलन कोई क्यों नहीं करता जिले में लगातार बीजेपी बिखरती और कमजोर होती जा रही है ये किसी को दिखाई नही देता — सत्ता का हर सुख भोगने के बाद भी गुटबाजी के कारण बीजेपी गर्त में जा रही है।जिला महामंत्री विनय भगत ने बताया कि हम तो चौदह साल से वनवास काट रहे है फिर भी मजबूती के साथ एक होकर बीजेपी के खिलाफ आम जनता की लड़ाई लड़कर जीतते जा रहे है – बीजेपी पार्टी हर तरह कमजोर पड़ता जा रहा है और कांग्रेस आगे की ओर बढती जा रही है यह जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल जी की उपलब्धि है– बीजेपी के गढ़ में कांग्रेस को यहाँ की आम से लेकर खास तक की जनता ने विश्वास के साथ जीताया है जिसका सार्थक नतीजा जिले में दिखाई पड रहा है — कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया कि भविष्य की कांग्रेस मुक्त भारत की कल्पना करने वाले — 2018 में बीजेपी मुक्त प्रदेश — की हकीकत देख लेंगे और जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल के नेतृत्व में जिले में कांग्रेस ने हर जगह परचम लहराया है और हम चाहेंगे कि हमारे जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल जी ही रहें और जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल के नेतृत्व में आगे की चुनाव में भी जीत हासिल करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *