July 24, 2021
Breaking News

धार्मिक क्रिया के नाम पर मोर पंख घुमाया फिर कपड़े खोले,,जैन मुनि

रेप के आरोपी जैन मुनि शांतिसागर को लेकर एक के बाद एक नए खुलासे हो रहे हैं. बताया जा रहा है कि जैन मुनि शांति पाठ के बहाने पीड़िता से व्हाट्सएप पर न्यूड फोटो मंगवाता था. यही नहीं, वह दक्षिणा के नाम पर उससे डांस भी करवाता था.बताया जा रहा है कि जैन मुनि शांति पाठ और धार्मिक क्रिया के पीड़िता से व्हाट्सएप पर न्यूड फोटो मंगवाता था। यही नहीं वह इस कथित क्रिया को पूरा होने के बाद दक्षिणा के नाम पर उससे डांस भी करवाता था। जानकारी के मुताबिक जैन मुनि की गंदी करतूतों का शिकार हुई छात्रा ने उससे जुड़े सनसनीखेज मामलों के खुलासे किए हैं।
धार्मिक क्रिया के नाम पर करता था बेबस
दरअसल, यह छात्रा जैन मुनि से पहली बार एक प्रवचन के दौरान अपने परिवार के साथ मिली थी। तभी वह जैन मुनि की नजरों में आ गई और फिर उसने छात्रा के परिजनों से उसे अपनी शिष्या बनाने की बात की। जिसके बाद परिजनों के कहने पर वह शांति सागर से वो शिक्षा लेने लगी, जिसके बाद जैन मुनि भी पीड़िता को कॉल और मैसेज करने लगा। यही नहीं फिर उसने धार्मिक क्रिया के नाम पर लड़की के न्यूड फोटो मंगवाने शुरू कर दिए। यही नहीं एक दिन उसने छात्रा के फोन कर सूरत बुलाया और दक्षिणा के तौर पर उससे डांस भी करवाया। जानकारी के मुताबिक इसके बाद एक दिन जैन मुनि ने सूरत में ही पीड़िता को धार्मिक क्रिया करने के लिए रात में बुलाया, जब पीड़िता अपने परिजनों के साथ उससे मिलने पहुंची तो मुनि ने उसके मां—बाप को बाहर बैठा दिया। वह पीड़िता को अपने साथ कमरे में ले गया और मंत्रोच्चारण करते उसके शरीर पर मोर पंख घुमाया और फिर कपड़े उतारने को कहा,
जिसके बाद पीड़िता को डरा धमका कर संबंध स्थापित करने को मजबूर किया।
ऐसे हुआ खुलासा
जैन मुनि शांतिसागर की घिनौनी करतूत जब लड़की ने अपने परिवार वालों को बताई तो उन्हें यकीन नहीं हुआ। इसके बाद जब मां-बाप ने पीड़िता का मेडिकल कराया तो रेप की पुष्टि हुई। इसके बावजूद पीड़िता के मां-बाप जैन मुनि और समाज के डर से पुलिस के पास जाने से बचते रहे। लेकिन आखिरकार पीड़िता पुलिस के पास जाकर अपनी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस में मामला आने बाद पूरी कहानी से पर्दा हट गया।
मेडिकल जांच के दौरान जैन मुनि ने रेप के आरोपों से इनकार किया है. 49 साल के मुनि ने कहा, ‘उस दिन जो भी हुआ लड़की की रजामंदी से हुआ.’ डॉक्टर ने जब पूछा कि आप साधु हैं, फिर ऐसा क्यों किया? इस पर जैन मुनि ने सिर झुका लिया.

लड़कीं ने अपनी मर्जी से बनाये सम्बन्ध

दिगंबर संप्रदाय के शांति सागर जैन मुनि महाराज ने मेडिकल के दौरान कहा, ‘मैं लड़की को 5-6 महीने से पहचानता हूं. वह पहली बार मिलने के लिए अपने परिवार के साथ सूरत आई थी. टीमलियावाड नानपुरा धर्मशाला में लड़की की रजामंदी से उससे एक अक्टूबर को फिजिकल रिलेशन बनाए. जीवन में पहली बार ऐसा किया.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *