November 29, 2021
Breaking News

बीजेपी ने किया साफ मेघालय में नही होगा गोमांस में प्रतिबन्ध

बीजेपी ने किया साफ मेघालय में नही होगा गोमांस में प्रतिबन्ध
नई दिल्ली। बीजेपी ने साफ किया है कि मेघालय में गोमांस पर प्रतिबंध नहीं होगा. ऐसा लग रहा है कि गौमांस की हड्डी भारतीय जनता पार्टी के गले में ऐसी अटकी है कि अब ना निगलते बन रहा है और ना उगलते। विपक्ष को तो छोड़ो पार्टी के भीतर ही इस मुद्दे पर विरोध के स्वर सुनाई दे रहे हैं। लेकिन भाजपा ने आज उन खबरों को ‘फर्जी और द्वेषपूर्ण झूठ’ करार दिया, जिनमें कहा गया था कि पार्टी मेघालय में गौमांस पर प्रतिबंध लगाना चाहती है। वहीं पार्टी के एक अन्य नेता ने मवेशियों पर केंद्र की विवादित अधिसूचना के खिलाफ इस्तीफा दे दिया दिया।पार्टी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अगले वर्ष होने वाले चुनाव से पहले राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए इस मुद्दे पर लोगों को ‘गुमराह’ कर रही है.
राज्य बीजेपी के अध्यक्ष शिबुन लिंगदोह ने कहा कि केंद्र ने मेघालय में गोमांस पर प्रतिबंध नहीं लगाया है. उन्होंने आरोप लगाया कि 23 मई की अधिसूचना में पशु बाजारों को नियमित किए जाने की बात है, जिसमें पशु बाजारों के कामकाज और व्यापार के लिए लाए जाने वाले पशुओं के साथ व्यवहार की बात है.
बीजेपी प्रवक्ता जेए लिंगदोह ने बयान जारी कर कहा कि पार्टी ने ‘स्पष्ट कर दिया है कि पूर्वोत्तर राज्यों में इसे (गोमांस प्रतिबंध ) लागू नहीं किया जाएगा. पशुधन राज्य का मामला है. इस पर राज्यों को निर्णय करना है.’ उन्होंने कहा कि राज्य में गोमांस प्रतिबंध लागू नहीं होगा. उन्होंने कहा कि गोमांस पर प्रतिबंध लगाना न तो अच्छी आर्थिक पहल है न ही संविधान सम्मत है.पूर्वोत्तर के राज्यों में गौमांस खाना आम है और भाजपा के प्रतिद्वंद्वियों ने उसपर आरोप लगाया है कि वह इस क्षेत्र में भी प्रतिबंध लगाने पर काम कर रही है। भाजपा के कई नेता गौमांस खाने के खिलाफ बेहद मुखर रहे हैं। भाजपा नेता कोहली ने कहा, ‘कांग्रेस का कुनीति विभाग इस फर्जी और द्वेषपूर्ण झूठ के साथ एजेंडे के सांप्रदायीकरण की कोशिश कर रहा है कि भाजपा मेघालय में गौमांस पर प्रतिबंध लगाना चाहती है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *