January 20, 2022
Breaking News

तमिल फिल्म में जीएसटी व नोटबन्दी की हुई आलोचना से भाजपा नाराज,सरकार की इन नीतियों को गलत तरह से पेश करने का आरोप

तमिल फिल्म में जीएसटी व नोटबन्दी की हुई आलोचना से भाजपा नाराज,सरकार की इन नीतियों को गलत तरह से पेश करने का आरोप
बीजेपी एक फिल्म में नोटबंदी और जीएसटी के जिक्र से इस हद तक नाराज है कि फिल्म से उस सीन को ही हटाने की मांग कर रही है। दरअसल तमिल फिल्म मर्सल में जीएसटी और नोटबंदी पर कुछ सीन फिल्माए गए हैं जिसपर बीजेपी का कहना है कि सरकार की इन नीतियों को गलत तरह से पेश किया गया है। इस शुक्रवार को रिलीज हुई तमिल सुपरस्टार विजय की एक्शन ड्राम फिल्म खबरों में बनी हुई है। जहां एक तरफ फिल्म कमाई के मामलों में एक के बाद एक रिकॉर्ड तोड़ रही है तो फिल्म की अलग अलग तरह के काफी सारे विरोधों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे पहले फिल्म को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने विरोध दर्ज कराया है। पार्टी का आरोप है कि फिल्म में नोटबंदी और जीएसटी को नकरात्मक ढंग से दिखाया गया है। तमिलनाडु बीजेपी के अध्यक्ष तमिलसाई सुंदरराजन ने फिल्म के कुछ सीन्स पर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा है कि जीएसटी और डिजिटल मीडिया पर फिल्म में मौजूद सीन से लोगों को गलत जानकारी दी जा रही है। वहीं लोकल चैनल से मिल रही जानकारी के मुताबिक बीजेपी की आपत्ति के बाद फिल्म के प्रोड्यूसर फिल्म से आपत्तिजनक सीन हटाने को तैयार हो गए हैं। हालांकि ये अकेला मसला नहीं है जिसके कारण फिल्म का विरोध हो रहा है। इसके अलावा फिल्म में जिस तरह से डॉक्टरों का चित्रण किया गया है उसको लेकर भी डॉक्टरों में काफी गुस्सा है।भाजपा के वरिष्ठ नेता एच. राजा ने भी वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के संबंध में दिए गए डायलाग की निंदा की है। नागरकोइल (तमिलनाडु), प्रेट्र। दीपावली के मौके पर रिलीज हुई तमिल फिल्म ‘मेरसाल’ में जीएसटी के उल्लेख को लेकर भाजपा ने नाराजगी जाहिर की है। इस फिल्म में लोकप्रिय अभिनेता विजय ने मुख्य भूमिका निभाई है। भाजपा ने जीएसटी से संबंधित डायलाग फिल्म से हटाने की मांग की है। केंद्रीय मंत्री पोन राधाकृष्णन ने कहा, ‘फिल्म निर्माता इस सिनेमा से जीएसटी से संबंधित असत्य को हटाएं।’ उन्होंने कहा कि सिनेमा के माध्यम से गलत सूचना नहीं फैलाई जानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *