July 25, 2021
Breaking News

CM योगी ने दलाली करने वाली BJP महिला नेत्री को भेजा जेल

CM योगी ने दलाली करने वाली BJP महिला नेत्री को भेजा जेल
गोरखपुर. जेल जाने से बचाने के नाम पर रिश्वत लेना BJP की महिला नेत्री को महंगा पड़ गया। पीड़ित द्वारा CM योगी आदित्यनाथ से शिकायत के बाद मामला इस कदर बड़ा हो गया कि पुलिस ने BJP महिला नेत्री को गोरखनाथ पुल से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।आरोपी युवक को छुड़ाने के एवज में दी गई 50 हजार रुपये की रकम भी महिला नेत्री के घर से बरामद हुई है।
BJP महानगर में मंत्री हैं सरिता सिंह मोबाइल चोरी में पकड़े गए युवक को बचाने के एवज में 50 हजार रुपये लेने का आरोप रकम देने के बाद भी युवक जेल गया तो परिजनों ने सीएम से की शिकायतयोगी आदित्यनाथ ने गिरफ्तार करवा दिया है.महिला नेत्री पर पुलिस और गोरखनाथ मंदिर के सचिव को रिश्वत देने के नाम पर लोगो से ठगी करने का आरोप है.

कूडाघाट आवास विकास कालोनी की रहने वाली भारतीय जनता पार्टी महानगर में मंत्री सरिता सिंह पर आरोप है कि उन्होंने मोबाइल छीनने के आरोप में 13 अक्तूबर को कैंट पुलिस द्वारा पकड़े गए हर्षित पांडे को जेल जाने से बचाने का वायदा किया। उन्होंने हर्षित के गिरफ्तार न किए जाने के एवज में 50 हजार रुपये की मांग की।योगी से मिलकर पीड़िता ने की शिकायत
हर्षित की मां रीता पांडे ने बेटे को छुड़ाने के लिए कैंट थाने पहुंची थी, जहां उनकी मुलाकात BJP नेत्री से हुई थी। BJP नेत्री ने रकम की मांग करते हुए छुड़ाने का आश्वासन दिया था। उसी दिन रीता ने पैसे का इंतजाम कर सरिता को रकम दे दी थी, लेकिन उसके बाद भी हर्षित जेल चला गया।

हर्षित के परिजन तब रकम वापस मांगने लगे, लेकिन सरिता सिंह लौटा नहीं रही थी। शुक्रवार को इसी बात की शिकायत लेकर हर्षित के परिजनों ने अपनी पड़ोसी रिश्तेदार प्रभा पांडे के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर शिकायत की। प्रभा पांडे इलाहीबाग तिवारीपुर की निवासी हैं।गोरखपुर महानगर मंत्री सविता सिंह पर आरोप है कि उन्होंने एक मोबाइल चोर को छुड़ाने के लिए चोर की माँ से खूब वसूली की.सविता सिंह को चोर की माँ ने पचास हजार रूपये दिए.सविता सिंह पर आरोप है कि उसने चोर के परिवार को ये बता कर पैसे लिए कि इसमें से कुछ हिस्सा गोरख्ननाथ मंदिर और कुछ हिस्सा उसे पुलिस को देना होगा.सविता सिंह ने चोर के परिवार को बताया कि हर्षित को छुडवाने के लिए उन्हें पचास हजार का इंतज़ाम करना होगा,उसने चोर के परिवार को ये भी बताया कि इसमें से आधी रकम गोरखनाथ मंदिर के सचिव को देना है और आधी रकम पुलिस थाने को देना है.

50 हजार रुपये भी बरामद
मुख्यमंत्री ने तत्काल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को इस मामले में कार्रवाई करने के आदेश दिए। उसके बाद सक्रिय हुई पुलिस ने पीड़ित परिवार से लिखित शिकायत लेकर सरिता सिंह को गिरफ्तार कर लिया। उनकी निशानदेही पर उनके घर से 50 हजार रुपये की रकम बरामद भी कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *