January 21, 2020
  • 8:28 PM चीन में इंसान से इंसान में फैल रहे वायरस से छह मरे, डब्ल्यूएचओ ने बुलाई आपात बैठक
  • 8:10 PM अब होमगार्ड सरकार से नाराज, आंदोलन की चेतावनी
  • 7:58 PM घर के सामने खड़ा ट्रैक्टर चोरी
  • 7:31 PM रायपुर: शराब दूकान में खड़ी शराब से लदी ट्रक से शराब चोरी
  • 6:55 PM ड्रॉप -रो बाल प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त कर पारुल कश्यप ने जीता गोल्ड मेडल

Sharing is caring!

जंगली हाथियों के चपेट में आने से एक ग्रामीण मौत


सूरजपुर जिले के दूरस्थ क्षेत्र ओड़गी विकासखंड के चांदनी क्षेत्र ग्राम पंचायत मोहरसोप मे आज सुबह 2:00 बजे 18 जंगली हाथियों का दल मक्के के खेत में पहुंचा पहुंचा और अपने मक्के की खेत की रखवाली कर रहे ग्रामीण हाथियों के चपेट में आ गया और हाथियों ने ग्रामीण को मौके पर कुचल कर मार डाला ग्रामीणों के बताये अनुसार मृतक रामधारी यादव उम्र लगभग 50 वर्ष जाति अहीर ने कल शाम को अपने परिवार लोगों के साथ खाना पीना खा पी कर के सोया था उसी बीच आज सुबह 2:00 बजे अचानक जंगली हाथियों का दल उसके घर के बगल में मक्के के खेत में पहुंचे हुए थे उसी का आहट सुनकर वे घरवाले उठ गए और वहां से आवाज किए तो अगल बगल के पड़ोसी लोग भी उठे और अपने अपने घर से रोड की तरफ भागने लगे इसी बीच मृतक रामधारी अपने घर की बाड़ी में फस गया और भागने की मौका नहीं मिला इसी बीच जंगली हाथियों ने उसे चारों तरफ से घेरकर दांत से उसके पैर पर वार करने लगे और इसी बीच रामधारी का मृत्यु हो गया और ग्रामीण वहां से भाग करके रोड तरफ आ चुके थे इसके बाद सुबह जब हुआ तो जंगली हाथी जंगल की ओर निकल गए और ग्रामीण एवं मृतक के परिवार लोग घर के पास जाकर देखे तो रामधारी का मृत्यु हो गया था इसके बाद मृतक के परिवार वालों ने इसकी सूचना वन परिक्षेत्र अधिकारी बिहार पुर को दिया तो सुबह वन परिक्षेत्र अधिकारी एवं स्टाफ ग्रामीण मौके पर पहुंचकर पंचनामा तैयार करके सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिहार पुर मे पीएम के लिए लाए और वनपरिक्षेत्रअधिकारी के द्वारा मृतक के परिवार वालों को तत्काल ₹25000 सहायता राशि दिया गयाऔर ₹575000 की राशि को बाद में देने के लिए बोला गया

हाथियों के आने की सूचना वन विभाग वालों को 3 दिन पहले ही मिल गई थी लेकिन वन विभाग द्वारा किसी भी प्रकार की कोई चेतावनी ग्राम वासियों को नहीं दी गई अगर समय रहते ग्रामीणों को हाथियों के आगमन की सूचना दे दी दे दी जाती तो शायद मृतक बेमौत न मारा जाता

ज्ञातव्य हो कि ग्रामममोहरसोप के पास वाले ग्राम बसनरा में 3 दिन पहले हाथियों के आने की पुष्टि हुई थी जो कि तमोर पिंगला क्षेत्र से आए थे

हाथियों के आने की सूचना व उक्त घटना से क्षेत्रवासियों में भय का माहौल बना हुआ है

उक्त घटना पर वन विभाग के परिक्षेत्र अधिकारी *एम एल पटेल का कहना है कि मृतक को तत्काल ₹25000 की सहायता राशि प्रदान कर दी गई है बाकी सहायता राशि कुछ दिनों में मृतक के परिजनों को दी जाएगी वह ग्राम वासियों से अपील की है कि रात के समय में अकेले बाहर न निकलें वह हाथियों की सूचना होने पर वन विभाग को सूचित करें*

Sharing is caring!

haritwnb

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT