November 29, 2021
Breaking News

अखंड राम नाम सप्ताह यज्ञ का भव्य आयोजन नगर पंचायत डभरा में

अखंड राम नाम सप्ताह यज्ञ का भव्य आयोजन नगर पंचायत डभरा में
हरितछत्तीसगढ़ बसन्त चन्द्रा डभरा– नगर पंचायत डभरा में पिछले 70 सालों से अखण्ड रामनाम सप्ताह का आयोजन किया जाता रहा है इसी तर्ज में इस वर्ष भी यह आयोजन 22-10 2017 कार्तिक शुक्ल पक्ष 03 दिन रविवार को शुरू हुआ है पूर्णाहुति एवं सहस्त्रधारा 29-10 2017 कार्तिक शुक्ल पक्ष 9 दिन रविवार को होगा, नगर वासियों द्वारा समस्त श्रोताओं व कीर्तन मंडली को आवाहन किया है अधिक से अधिक संख्या में आकर राधेश्याम सीताराम के जाप कर अपने जीवन में किए गए पापों प्रायश्चित करें और नगर पंचायत अध्यक्ष अनिल चन्द्रा के विशेष सहयोग से किया जाता है इस यज्ञ में कीर्तन भजन करने वाले भक्तों के लिए आशीर्वाद स्वरूप इनाम रखा गया है जिसमें प्रथम पुरस्कार 7100 जोकि रुप सिह चन्द्रा के द्वारा दिया जाएगा, द्वितीय पुरस्कार 510 जो शिवा चन्द्रा द्वारा दिया जाएगा, तृतीय पुरस्कार 4100 अशोक विजय चन्द्रा के द्वारा दिया जायेगा, चतुर्थ पुरस्कार 3100 सत्यवान डनसेना के द्वारा दिया जाएगा, पंचम पुरुस्कार 2100 जोकि सुनील चंद्रा युवानेता के द्वारा दिया जाएगा, षष्टम पुरस्कार 1500 दीपक जाहिरे द्वारा दिया जाएगा, सप्तम पुरुस्कार 1100 नंदकिशोर द्वारा दिया जाएगा,समस्त प्रतिभागियों को समिति की ओर से सांत्वना पुरस्कार की व्यवस्था की गई है, विशेष पुरस्कारों में बेस्ट मांदर वादक को ₹701 नरेश नामदेव के द्वारा दिया जाएगा बेस्ट साज सज्जा पर 501 भुवन साहू के द्वारा दिया जाएगा,बेस्ट नृत्य पर 501 रामविलास अग्रवाल द्वारा दिया जाएगा इस तरह से प्रभु के भजन करने आए कीर्तन मंडली नाटक मंडली को प्रभु के आशीर्वाद स्वरुप इनामों की बौछार नगर के लोग करेंगे इस राम नाम सप्ताह का मुख्य उद्देश्य जन जन में धार्मिक भावनाओं को जागृत कर नगर में शांति व्यवस्था के लिए रखा जाता है लोगों का आस्था भगवान पर बनी रहे तथा 7 दिनों तक राधे श्याम सीता राम का जाप कर तन मन को पवित्र करने का एक माध्यम बना रहता है, इस कार्यक्रम मैं विशेष सहयोग नगर के युवाओं का व महिला समूहों का रहता है जो रात रात भर जागकर कीर्तन-भजन करने आए मंडली के लिए भोजन इत्यादि की व्यवस्था में लगे रहते हैं निश्चित ही महिलाओं द्वारा इस कार्यक्रम में विशेष रुचि लेकर कार्यक्रम को किया जाता है रात्रि में करीब मंडली में 400 से 500 महिलाएं बैठकर कीर्तन भजन का रसपान करते हैं यह आयोजन विशेषकर महिलाओं के लिए एवं बुजुर्गों के लिए होता है जिस में युवाओं का सहयोग विशेष रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *