July 4, 2020
Breaking News

शिक्षाकर्मियों में नई भर्ती के निर्णय से वरिष्ठता को लेकर संदेह,,छत्तीसगढ टीचर्स एसोसिएशन ने की सीधी भर्ती के पूर्व संपूर्ण संविलियन की मांग

breking harit

शिक्षाकर्मियों में नई भर्ती के निर्णय से वरिष्ठता को लेकर संदेह,,छत्तीसगढ टीचर्स एसोसिएशन ने की सीधी भर्ती के पूर्व संपूर्ण संविलियन की मांग

डौंडीलोहारा(बालोद)- सरकार के आठ वर्ष के बंधन के चलते स्कूल शिक्षा विभाग में संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों में हताशा और निराशा साफ देखी जा सकती है। इन शिक्षाकर्मियों को पंचायत विभाग में समय पर अल्प वेतन भी नसीब नहीं होता। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन डौण्डीलोहारा के ब्लाक उपाध्यक्ष शिवेन्द्र बहादुर साहू ने बताया कि पूरे प्रदेश में संविलियन वंचितों की तादाद 25 हजार के लगभग है। जिनको न मंहगाई भत्ता मिलता है, न ट्रांसफर का लाभ, न ही विभाग की अन्य आवश्यक सुविधाओं का लाभ मिल पाता है जो कि शोषण की पराकाष्ठा ही है। इसके अलावा शासन की नई भर्ती के निर्णय से भी संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों में वरिष्ठता को लेकर संदेह की स्थिति निर्मित हो गई है। ऐसे में सभी समस्याओं का निराकरण केवल और केवल बचे हुए 25 हजार शिक्षाकर्मियों का स्कूल शिक्षा विभाग में संविलियन है। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन डौण्डीलोहारा के संरक्षक बीरबल देशमुख, ब्लाक अध्यक्ष माधव साहू, उपाध्यक्ष शिवेन्द्र बहादुर साहू, अविनाश साहू, मीनाक्षी आर्य, रोशन लाल साहू, डुप्ले साहू, सावित्री साहू, नंदिनी जोशी, धनेश्वरी कलियारी, यतेन्द्र गजपाल, रूपेन्द्र साहू, केशव देशलहरे, उर्मिला नायक, आदि ने शेष शिक्षाकर्मियों के शीघ्र संविलियन की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *