December 15, 2019
  • 7:57 PM संयुक्त शिक्षाकर्मी/शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष रायगढ का निर्वाचन हुआ संपन्न।
  • 2:20 PM शिक्षा के क्षेत्र में अलख जगाने हेतु छ. ग. सहायक शिक्षक फैडरेशन दुलदुला की अभिनव पहल
  • 1:18 PM नागरिकता संशोधन बिलः मुसलमानों के कंधों पर समझदारी की जिम्मेदारी…
  • 8:36 AM नम्रता पटेल का सहायक संचालक पद पर चयन
  • 12:57 PM नगरीय निकाय चुनाव में काँग्रेस प्रत्याशी बाघी नेता पर गाज गिरनी हो गयी शुरू, पहली कार्यवाही देखिये किसपर हुई

Sharing is caring!

गुरुद्वारा-सिंह सभा कोटा के द्वारा धूमधाम से मनाया गया गुरुनानक-देव जी का प्रकाश पर्व।

550-प्रकाश पर्व पर सिक्ख समाज के द्वारा प्रभात फेरी निकाली गई,,,,दोपहर बाद लंगर चखा लोगो ने।


*दिनांक:-14-11-2019*

*सवांददाता:-मोहम्मद जावेद खान करगी रोड कोटा हरित छत्तीसगढ़।*

करगीरोड-कोटा:-गुरुनानक देव जी के 550-वे प्रकाश पर्व पर कोटा-नगर के सिक्ख समाज के लोगो द्वारा बड़े ही अदबो एहतराम से गुरुद्वारा सिंह सभा पड़ावपारा कोटा में प्रभात फेरी निकाली गई, साथ मे हर साल की तरह इस साल भी गुरु का लंगर वितरण किया गया, प्रकाश पर्व बड़े ही धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया, सिक्ख समाज के ही राजेंद्र सिंह ने बताया कि आज गुरुनानक देव जी के प्रकाश पर्व पर बताया कि हमें अपने आपको याद दिलाना चाहिए की हमें संसार के मोहमाया में उलझना नहीं चाहिए, खुद भी खुश रहे व औरों को भी को खुश रखें, प्रार्थना करें सेवा करें और धर्म की रक्षा के लिए कार्य करें।


*इस बार गुरुनानक देव जी के 550-वे प्रकाश-पर्व की तैयारी छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश मे सिक्ख समाज के द्वारा महीनों पहले से तैयारी की जा रही थी, जैसा कि इस बार बिलासपुर दयालबंद गुरुद्वारा प्रबंधक के द्वारा प्रभात फेरी में भारी संख्या के सिक्ख समाज के लोगो की मौजूदगी रही, उसी तरह से इस बार गुरुद्वारा सिंह सभा कोटा के द्वारा भी प्रकाश पर्व की तैयारी पिछले महीने से ही कर दी गई थी, खासकर गुरुद्वारा में गुरु के लंगर की तैयारी, जिसमें की सिख समाज द्वारा गराई (चंदा) कोटा नगर में किया जाता है, इसके बाद गुरुद्वारा में आकर्षक सजावट रौशनी की जाती है और साथ में लंगर-प्रसाद की व्यवस्था की जाती है, प्रकाश पर्व के दिन सिक्ख समाज के द्वारा सुबह तड़के 4:30 बजे प्रभात-फेरी निकाली गई जो की गुरुद्वारा सिंह सभा से नाका चौक होते हुए महाशक्ति चौक, चंडी माता चौक, रेलवे स्टेशन सिंधी-समाज के गुरुद्वारा, होते हुए डाक बंगला पडावपारा, राम मंदिर चौक से होते हुए गुरुद्वारा वापस लाया गया, इस प्रकार से प्रभात-फेरी पूरी की गई,प्रभात फेरी के बाद गुरुद्वारा में सहज पाठ किया गया लंगर प्रसाद दोपहर 1:00 बजे से प्रारंभ होकर शाम 7:00 बजे तक चला,जिसमे की कोटा नगर के साथ ही आसपास के ग्रामीण क्षेत्र से आए लोगों ने भी गुरु लंगर चखा।


गुरुनानक देव जी की 550 वे प्रकाश पर्व पर कार्यक्रम को सफल बनाने में सिख-समाज के सभी प्रमुख सदस्यों में सरदार हाकम सिंह, राजेंद्र सिंह, प्रीतम सिंह, भगत सिंह, महेंद्र सिंह, मनजीत सिंह गिल, दिलबाग सिंह, चरणजीत सिंह, रंजीत सिंह, परगट सिंह, कमलजीत सिंह सहित समस्त सिक्ख समाज के लोग शामिल रहे।

Sharing is caring!

haritwnb

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT