July 4, 2020
Breaking News

संत अन्ना की पुत्रियों के धर्म संघ के छः धर्म बहनों ने अपने सेवा और समर्पण का रजत जयंती मनाया।

संत अन्ना की पुत्रियों के धर्म संघ के छः धर्म बहनों ने अपने सेवा और समर्पण का रजत जयंती मनाया।

संत अन्ना की पुत्रियों के धर्मसंघ रांची- मध्यप्रदेश के छः धर्म बहनें सिस्टर भानु प्रभा बड़ा डीएसए, सिस्टर मेरी अनिमा बड़ा डीएसए, सिस्टर प्रभाती एक्का डीएसए, सिस्टर क्लोसटिका खेस्स डीएसए, सिस्टर अजीत कु. लकड़ा डीएसए तथा सिस्टर प्रबिला केरकेट्टा डीएसए के अपने धर्मसंघ में 25 वर्ष पूरा करने के अवसर पर संत अन्ना की पुत्रियां धर्मसंघ तथा अपने प्रियजनों के द्वारा उन्हें अपने मुख्यालय कुनकुरी में सम्मान दिया गया। इस पुनित अवसर पर बधाई समारोह के साथ धार्मिक यज्ञ संपन्न कराए गए। इस समारोह में संत अन्ना की पुत्रियों के धर्म संघ की रांची-मध्यप्रदेश प्रोविश के प्रोविंशियल सिस्टर फ्लोरेंसिया मिंज सहित विभिन्न समुदाय एवं संस्थान से आए पुरोहितगण, धर्म बहनें, प्रशिक्षु बहनें, अतिथिगण, स्टाफ एवं विद्यार्थियों ने भाग लिया। मिस्सा पूजा का अनुष्ठान जशपुर धर्मप्रांत के विकर जेनरल फादर सिकंदर किस्पोट्टा के अगुवाई में संपन्न हुआ। जिनका सहयोग लोयोला समुदाय के रेक्टर फादर पंखरासियुस टोप्पो, रतासिली पल्ली के पल्ली पुरोहित फादर सुधीर लकड़ा एवं बिशप के सचिव फादर विकास बड़ा ने दिया। जुबली उत्सव का शुभारंभ जुबलेरियन बहनों के दीप जुलूस के साथ हुआ। तद्पश्चात सिस्टर सुमन शोभा एक्का ने प्रारंभिक उद्बोधन एवं स्वागत वाचन प्रस्तुत किया। बाइबल से पढ़े जाने वाले प्रथम पाठ सिस्टर प्रभाती एक्का, दूसरा पाठ सिस्टर क्लोसटिका खेस्स तथा सुसमाचार पाठ फादर सुधीर लकड़ा ने पढ़ा । प्रवचन में फादर किस्पोट्टा ने कहा जुबली का दिन ईश्वर को धन्यवाद तथा जुबलेरियन बहनों को बधाई देने का दिन है। जिस तरह ईश्वर ने अयोग्य यिरमियाह को नबी बनने, संत पौलुस को ईसा मसीह का साक्षी देने तथा संत फ्रांसिस ज़ेवियर को भारत की सेवा करने बुलाया उसी तरह ईश्वर ने इन बहनों को चुना और बुलाया है। इन्होंने विगत 25 वर्षों से अलग अलग जगहों में विभिन्न स्तरों पर निःस्वार्थ सेवाएँ प्रदान किया है तथा समर्पण का जीवन ईमानदारी से जीया है। इनके इस जीवन यात्रा में ईश्वर की असीम कृपा एवं लोगों का आशीर्वाद भरपूर रहा है।

कार्यक्रम के अगले चरण में जुबलेरियन धर्म बहनों को बधाई और शुभकामनाएं दी गई जिसके अंतर्गत बधाई गीतों का गायन, पुष्पगुच्छा एवं हरमाला प्रदान करने के साथ आकर्षक नृत्य की प्रस्तुति प्रशिक्षु बहनों द्वारा दी गई। कार्यक्रम के अंत में जुबलेरियन सिस्टर भानु प्रभा बड़ा द्वारा धन्यवाद ज्ञापन किया गया। बधाई समारोह का संचालन सिस्टर शांति खलखो एवं सिस्टर नीलिमा खलखो ने किया। कार्यक्रम के आयोजन में संत अन्ना प्रोविंशियालेट समुदाय, नोबिसिएट समुदाय तथा निर्मला नवाटोली स्कूल समुदाय का विशेष योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *